बैतूल जिले के पाढ़र की कोरोना पीड़ित लक्ष्मी दीक्षित स्वस्थ होकर लौटी घर

बैतूल जिले के पाढ़र की कोरोना पीड़ित लक्ष्मी दीक्षित स्वस्थ होकर लौटी घर
laxmi-dixit-a-corona-sufferer-of-padhar-in-betul-district-returned-home-healthy

परिजनों ने की चिकित्सक और स्टाफ की प्रशंसा बैतूल, 09 अप्रैल (हि.स.) । प्रदेश के बैतूल जिले के पाढ़र की लक्ष्मी दीक्षित कोरोना को मात देकर सकुशल अपने घर पहुंच गई हैं। उनके बेटे राकेश और अन्य परिजनों ने अपनी मां का उपचार करने वाले डॉ. रजनीश शर्मा और उनके स्टाफ की तहेदिल से प्रशंसा की है। लक्ष्मी के पति का 30 मार्च को ही कोरोना होने के कारण निधन हो गया था। जानकारी के अनुसार लक्ष्मी दीक्षित कोरोना के लक्षण पाए जाने पर 31 मार्च को डी.सी.एच.सी. (जिला अस्पताल) में दाखिल हुई थी। उनका ऑक्सीजन लेवल 42 था, जो चिकित्सकों के साथ ही परिवार के लिए चिंता का कारण बना था। उपचार के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल 42 से 99 आया और अंतत: वे 6 अप्रैल को स्वस्थ होकर घर लौट आईं। इस तरह एक परिवार जिसने पिता को खो दिया वह अपनी माता के घर लौटने पर बेहद प्रसन्न है। परिजन का कहना है कि चिकित्सकों और अन्य स्टाफ की मेहनत और जुनून काबिले तारीफ है। हिन्दुस्थान समाचार / उमेद