जबलपुर: मॉर्निंग वॉक के बहाने बाहर निकले, पुलिस ने उठाया

जबलपुर: मॉर्निंग वॉक के बहाने बाहर निकले, पुलिस ने उठाया
jabalpur-walked-out-on-the-pretext-of-morning-walk-police-picked-up

जबलपुर, 09 मई (हि.स.)। संक्रमितों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ कोरोना कर्फ्यू को लेकर पुलिस की सख्ती भी बढ़ती जा रही है। रविवार की सुबह पुलिस ने ऐसे कई लोगों को उठाया, जो मॉर्निंग वॉक के बहाने पर तफरीह पर निकले थे। रविवार की सुबह ऐसे तमाम लोग पकड़े गए जो सुबह की सैर का बहाना लेकर घरों से निकले थे और भीड़ लगाकर गपशप कर रहे थे। इस भीड़ में शारीरिक दूरी और मास्क के लिए जारी निर्देशों का खुला उल्लंघन किया जा रहा था। सुबह की सैर करने वालों के लिए कुछ व्यापारियों ने चाय नाश्ते की दुकानें खोल दीं। ऐसी दुकानों का संचालन ज्यादातर बस्ती व कॉलोनी के मार्गों पर किया जा रहा है। पुलिस टीम ने रविवार सुबह से जगह-जगह दबिश देकर कई व्यापारियों को चाय और नाश्ता परोसते हुए पकड़ लिया। इस दौरान शारीरिक दूरी, मास्क और दुकानों के खोलने को लेकर जारी निर्देशों के उल्लंघन पर पुलिस ने सख्त रवैया अपनाया है। इसी प्रकार बिना मास्क सड़कों पर घूमने वाले 3353 लोगों से पुलिस ने लाखों रुपये जुर्माना वसूला है। मास्क व शारीरिक दूरी का पालन न कर ये लोग कोरोना संक्रमण के लिए खतरा बन रहे थे। 24 घंटे के भीतर पुलिस ने तीन लाख 39 हजार 800 रुपये जुर्माना वसूलते हुए 274 लोगों को अस्थाई जेल भेजा। ये लोग बिना किसी ठोस वजह के घरों के बाहर घूमने निकले थे। इसी प्रकार लाकडाउन की शर्तों का उल्लंघन कर दुकान खोलने वाले 66 व्यापारियों पर एफआइआर दर्ज की गई। पुलिस को तमाम व्यापारी चाय, नाश्ते की दुकान चलाते मिले। अनेक थाना क्षेत्रों में तमाम किराना दुकानें खुली मिलीं। लार्डगंज में चार, गोहलपुर में पांच, माढ़ोताल में आठ, कैंट में एक, गोराबाजार में एक, चरगवां में चार, शहपुरा में पांच, बेलखेड़ा में दो, कुंडम में एक दुकान समेत 66 के खिलाफ धारा 188,269,270 एवं आपदा प्रबंधन एक्ट की धारा 51 के तहत एफआइआर दर्ज की गई। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे