अंतर्राष्ट्रीय समपार फाटक जागरुकता दिवस 10 को मनाया जाएगा

अंतर्राष्ट्रीय समपार फाटक जागरुकता दिवस 10 को मनाया जाएगा
international-level-crossing-gate-awareness-day-to-be-observed-on-10

रतलाम, 09 जून (हि.स.)। संरक्षा के प्रति लोगों में जागरुकता लाने के लिए प्रति वर्ष अंतर्राष्ट्रीय समपार फाटक जागरुकता दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल पर 10 जून को अंतर्राष्ट्रीय समपार फाटक जागरुकता दिवस वर्तमान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मनाया जाएगा। मंडल रेल प्रवक्ता जितेन्द्र कुमार जयंत ने बताया कि इसके तहत समपार फाटकों पर सड़क उपयोगकर्ताओं को समपार फाटक पार करने के बारे में पोस्टर/बैनर आदि के माध्यम से समझाया जाएगा। समपार फाटकों के आस-पास के गांव में जाकर वहॉं के स्थानीय लोगों को समपार फाटक पार करने तथा नियमों की जानकारी दी जाएगी ताकि होने वाली संभावित दुर्घटना को रोका जा सके। पेट्रोल पंपों पर भी नुक्कड़ नाटक एवं पोस्टर/बैनर के माध्यम से दो पहिया एवं चार पहिया वाहन चालकों को रेलवे समपार फाटक पार करने के बारे में समझाया जाएगा। इंजीनियररिंग, संरक्षा, रेलवे सुरक्षा बल, परिचालन विभाग के अधिकारियों द्वारा विभिन्न समपार फाटकों का जहॉं सड़क उपयोगकर्ताओं की संख्या ज्यादा रहती है का निरीक्षण कर गेट मैन एवं सड़क उपयोगकर्ताओं को समपार फाटक पार करने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों एवं सावधानियों के उल्लंघन करने पर होने वाली संभावित दुघर्टनाओं के बारे में ऑडिया क्लीप एवं पोस्टर/बैनर के मध्यम से जागरुक किया जाएगा। कई गेटों पर ऑटोमेटिक टाइमर लगाए गए हैं जिसके अनुसार समपार से गाड़ी के पार होने के एक मिनट बाद ही गेट खुलता है के बारे में बताया जाएगा ताकि अनावश्यक रूप से समपार फाटक खोलने के लिए गेट मैन पर दबाव नहीं बना सकें। अंतर्राष्ट्रीय समपार फाटक जागरुकता दिवस के अवसर पर सभी उपयोगकर्ताओं को 'दुर्घटना से देर भली की बात को आत्मसात करने हेतु जागरुक किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार / शरद जोशी