भाजपा के कारण विश्व में बदनाम हो रहा भारत, देशवासी वैक्सीन के लिये भटक रहे: कमलनाथ

भाजपा के कारण विश्व में बदनाम हो रहा भारत, देशवासी वैक्सीन के लिये भटक रहे: कमलनाथ
india-is-being-discredited-in-the-world-due-to-bjp-countrymen-are-wandering-for-vaccine-kamal-nath

भोपाल, 22 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ शनिवार को उज्जैन प्रवास पर पहुंचे। यहां मीडिया से बातचीत करते हुए कमलनाथ ने केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज प्रदेशवासी सरकार के भरोसे नहीं, भगवान भरोसे है। किस तरह हमारा भारत आज भाजपा सरकार के कारण विश्व भर में बदनाम हो रहा है। कमलनाथ ने कहाकि पहले चीन का कोरोना कहा जाता था, आज पूरे विश्व में सारी मीडिया रिपोर्ट ने इसका नाम भारतीय वेरीएंट कोरोना लिख दिया है। कई देशों के प्रमुख इसे भारतीय वेरीएंट के नाम से पुकार रहे हैं। हमारे देश के कई छात्र व जो नौकरी कर रहे है वो वापस नहीं जा पा रहे है। कुछ भारतीय जो विदेशों में टैक्सी चलाते हैं, उनकी टैक्सी में लोग बैठने को तैयार नहीं है? यह जो भारत महान बनाने की बात करते थे, उनकी असलियत सामने आ रही है ? उन्होंने कहा कि आज सरकार कोरोना से नहीं लड़ रही है, आलोचना से लड़ रही हैं। मीडिया के लोगों को भी दबाया जा रहा है, उन पर भी प्रकरण दर्ज किए जा रहे हैं। यह आज इमेज मैनेजमेंट में लगे हैं। मोदी जी खुद को विश्वगुरु बताते थे,कहते थे कोरोना की लड़ाई हम जीत गये? 6.60 लाख वैक्सीन का निर्यात कर दिया? आज देशवासी वैक्सीन के लिये भटक रहे हैं? पूर्व सीएम ने निशाना साधते हुए कहा कि हमारा छोटा-मध्यमवर्गीय व्यापारी, किसान युवा, बेरोजगार नौजवान परेशान है। अर्थव्यवस्था चौपट है। कई लोगों ने अपनो को खोया है और आगे आने वाला आर्थिक प्रभाव प्रदेश और देश को कहां ले जाएगा, हमें उसकी भी चिंता है ? मैंने कल ही प्रश्न पूछा था कि कोरोना के मौत के आंकड़े क्यों दबाए-छुपाए जा रहे हैं ? उन्होंने कहा कि मैंने प्रदेश के सभी 52 जिलों से जानकारी बुलायी है, जिसमें एक लाख 27 हज़ार शव मार्च और अप्रैल में मुक्तिधाम और कब्रिस्तान में पहुंचे है। मेरे हिसाब से उसमें से 80 प्रतिशत की मृत्यु कोविड से हुई। शिवराज जी ने कहा कि जिनकी कोरोना से मृत्यु हुई, उन्हें एक लाख की अनुग्रह राशि देंगे। मैंने कहा एक लाख नहीं 5 लाख दीजिए और किस सर्टिफिकेट पर आप देंगे, किस आधार पर देंगे, यह भी बताइये? गृहमंत्री पर पलटवार करते हए कमलनाथ ने कहा कि नरोत्तम मिश्रा मुझसे प्रमाण मांग रहे हैं, आपके पास तो रिकॉर्ड है, आप श्म शान, मुक्तिधाम, कब्रिस्तान के रिकॉर्ड और रजिस्टर को सार्वजनिक करिए, मुझे गलत साबित करिये, मैं माफी मांग लूंगा। मैं प्रदेश की जनता के साथ खड़ा हूं मुझे किसी एफआईआर व मुकदमे से डर नहीं लगता है। ये प्रदेश में कोरोना के आँकड़े छुपाने और दबाने के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट ज्यादा कर रहे हैं। केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा कि मोदी सरकार पिछले 1 सप्ताह से अपनी गलती को छुपाने और दूसरों पर ढ़ोलने की तैयारी में लग गई है। अब यह स्वास्थ्य को राज्य सरकार का विषय और राज्य सरकारों को हम चेतावनी दे चुके थे, इसमें लग गये है। जबकि सच्चाई यह है कि यह 2020 में आपदा प्रबंधन कानून लाए थे, उन्होंने राज्यों से पूरे अधिकार ले लिए थे। ये रेमडेसिविर का एक्सपोर्ट कर रहे थे, ऑक्सीजन का निर्यात कर रहे थे। मोदी जी की असलियत पूरे देश की जनता समझ रही है, जनता समझ रही कि हर वर्ग के साथ धोखा हुआ है। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

अन्य खबरें

No stories found.