उज्जैन में कोरोना पॉजीटिव्ह एवं संदिग्ध मृतकों के शवों को सुरक्षित रखने के कव्हर समाप्त

उज्जैन में कोरोना पॉजीटिव्ह एवं संदिग्ध मृतकों के शवों को सुरक्षित रखने के कव्हर समाप्त
in-ujjain-the-code-of-corona-positive-and-the-dead-bodies-of-suspected-dead-were-kept-safe

-शव देर से मिलने पर लोगों ने किया हंगामा,बाजार से लाकर दी पॉलिथिन उज्जैन,26 अप्रेल (हि.स.)। शहर में कोरोना पॉजीटिव एवं संदिग्ध मरीजों की लगातार हो रही मौतों के चलते राज्य शासन के स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जानेवाली कीट समाप्त हो गई है। मृत शरीरों को सुरक्षित रखने के लिए पहनाए जाने वाले कव्हर समाप्त होने पर आज मृतकों के परिजनों ने हंगामा किया। उनका आरोप था कि बॉडी कव्हर के अभाव में शव नहीं दिए जा रहे हैं। कुछ लोगों ने बाजार से पॉलिथिन को खरीदा और उसमें लपटवाकर शव ले गए। आज सुबह चरक हॉस्पिटल के बाहर हंगामा हो गया। यह शासकीय हॉस्पिटल है और यहां पांचवी एवं छटी मंजील पर कोविड पॉजीटिव्ह एवं संदिग्धों का उपचार हो रहा है। यहां भी भर्ती मरीजों की मौत हो रही है। ऐसे ही कुछ मृतकों के परिजन जब शव लेने पहुंचे तो उन्हें इंतजार करवाया गया। लम्बा इंतजार करने के बाद जब परिजनों ने तलाश कि आखिर देर क्यों हो रही है ? तो बताया गया कि शव को सुरक्षित सौंपने के लिए शव को एक बॉडी कवर में पैक किया जाता है। वह समाप्त हो गए हैं,उन्हीं के इंतजाम में लगे हुए हैं। आते ही शव लपेटकर दे दिए जाएंगे। इस पर लोगों ने जमकर नाराजगी व्यक्त की। कुछ बाजार में गए और अपने परिचितों की दुकानें ख्ुालवाकर पॉलिथिन लेकर आए तथा उसमें शव को लपेटकर ले गए। इस संबंध में हॉस्पिटल के नोडल अधिकारी डॉ.निलेश चंदेल ने कहाकि बॉडी कवर सीएमएचओ स्टोर्स में समाप्त हो गए थे। सूचना के बाद भी नहीं आए। उच्चाधिकारियों को बताया गया तो उन्होने इंतजाम करवाया। इसमें काफी समय लग गया। इसी कारण से परिजन नाराज हुए। हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल