if-the-scholarship-did-not-come-then-how-to-fill-the-examination-form-and-the-amount-of-admission-fee
if-the-scholarship-did-not-come-then-how-to-fill-the-examination-form-and-the-amount-of-admission-fee
मध्य-प्रदेश

छात्रवृत्ति ही नहीं आई तो कैसे भरे परीक्षा फॉर्म और प्रवेश शुल्क की राशि

news

गुना, 06 अप्रैल (हि.स.)। इस सत्र 2020-21 के सभी पात्र छात्रों को छात्रवृत्ति की राशि अविलंब वितरित करवाने व अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए छात्रवृत्ति व आवास योजना का ऑनलाइन पोर्टल शुरू करवाने की मांग को लेकर एवायडीओ की कॉलेज इकाई द्वारा जिलाधीश के नाम मंगलवार को ज्ञापन सौंपा गया। कॉलेज इकाई अध्यक्ष राधेश्याम चंदेल ने बताया कि उच्च शिक्षा में स्नातक एवं स्नातकोत्तर कक्षाओं की परीक्षाएं कराने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जीवाजी विश्वविद्यालय द्वारा स्नातक के परीक्षा फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 12 अप्रैल व स्नातकोत्तर कक्षाओं के परीक्षा फॉर्म बनने की अंतिम तिथि मंगलवार को रही, किन्तु अभी तक छात्रों की छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान सरकार द्वारा नहीं किया गया है ऐसे में आर्थिक तौर पर कमजोर छात्र किस तरह कॉलेज का परीक्षा शुल्क एवं प्रवेश शुल्क जमा करा पाएंगे। सरकार द्वारा छात्रवृत्ति, आवास योजना जैसी योजनाएं छात्रों के हित में चलाई जाती हैं ताकि आर्थिक तौर पर कमजोर छात्र भी उच्च शिक्षा ग्रहण कर सकें। लेकिन अभी तक छात्रों को छात्रवृत्ति का भुगतान ही नहीं किया गया है, जिसके चलते उन्हें परीक्षा फॉर्म भरने और प्रवेश शुल्क जमा करने में कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। राधेश्याम चंदेल ने कहा कि कॉलेज प्रशासन द्वारा स्ववित्तीय कक्षाओं का 6 हजारों से अधिक तक का शुल्क छात्रों से लिया जाता है लेकिन कंप्यूटर की कक्षाओं में छात्र संख्या के अनुरुप न ही कंप्यूटर्स की व्यवस्था है और न ही प्रयोगशाला में पर्याप्त मात्रा में प्रायोगिक सामग्री। साथ ही पुस्तकालय से अभी तक छात्रों को स्टेशनरी का वितरण ही नहीं किया गया है, जबकि पूरा सत्र निकल चुका है। कॉलेज प्रशासन के द्वारा सुविधाओं के नाम पर छात्रों से मोटी फीस तो समय पर वसूल की जाती है लेकिन सुविधाएं समय पर नहीं दी जाती। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक