Home Minister Dr. Mishra did bhoomi pujan and inauguration of works costing more than two crore
Home Minister Dr. Mishra did bhoomi pujan and inauguration of works costing more than two crore
मध्य-प्रदेश

गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने किया दो करोड़ से अधिक की लागत के कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण

news

कहा-आयुष्मान कार्ड पर सरकार करायेगी गरीब परिवार का पांच लाख का इलाज दतिया, 09 जनवरी (हि.स.)। प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने शनिवार को दतिया जिले में 2 करोड़ 11 लाख से अधिक की लागत के विकास एवं निर्माण कार्यों का शिलान्यास एवं भूमिपूजन किया किया। इसमें 1 करोड़ 5 लाख 70हजार की लागत के 9 विकास एवं निर्माण कार्यों का भूमिपूजन एवं 1 करोड़ 5 लाख 42 हजार की लागत के 13 विकास एवं निर्माण कार्य शामिल है। इस दौरान उन्होंने 81 लाख की लागत के निर्माण कार्यो की घोषणा कर विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत् हितग्राहियों को भी लाभ प्रदाय किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसी भी गरीब परिवार को इलाज के अभाव में दम नहीं तोडऩे दिया दिया जायेगा। इसके लिए आयुष्मान कार्ड के माध्यम से सरकार निजी चित्सिालय में गरीब परिवार के उपचार पर पांच लाख की राशि खर्च करेगी। गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार की संबल योजना के तहत् पंजीकृत ऐसे गरीब परिवार, जिनके परिवार के सदस्य की आयु 60 वर्ष से अधिक है अगर सामान्य मृत्यु हो गई हो तो उस परिवार को दो लाख की सहायता एवं दुर्घटना होने पर चार लाख की सहायता प्रदाय की जाती है। गांव में संबंल योजना में पंजीकृत अगर किसी व्यक्ति की मृत्यु हुई है तो परिजनों को योजना के तहत् लाभ दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार गरीब, मजदूर, किसान एवं महिलाओं की सरकार है इन वर्गो के कल्याण एवं उत्थान के लिए राज्य सरकार ने अनेको ऐतिहासिक कदम उठाये हैं। गृह मंत्री ने ग्रामीणों से जानी योजनाओं के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत मंत्री डॉ. मिश्र ने कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों से सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की चर्चा करते हुए योजनाओं के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत की भी जानकारी ली। उन्होंने ग्रामीणों को बताया कि योजनाओं का लाभ दिलाने के संबंध में किसी भी अधिकारी एवं कर्मचारी को राशि न दें। अगर कोई कर्मचारी अथवा अधिकारी राशि मांगता है तो उन्हें इसकी सूचना दें। उन्होंने गांव की पटवारी को निर्देश दिए कि वे नियमित रूप से गांव में उपस्थित रहकर ग्रामीणों की समस्याओं के निराकरण की कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान राज्य सरकार द्वारा गरीबों को तीन माह का नि:शुल्क खाद्यान वितरण किया गया। सरकार द्वारा स्कूली बच्चों को दाल एवं खाने का तेल भी प्रदाय किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश-hindusthansamachar.in