gunah-people-are-not-depositing-water-money
gunah-people-are-not-depositing-water-money
मध्य-प्रदेश

गुनाः पानी का पैसा जमा नहीं कर रहे लोग

news

गुना, 03 अप्रैल (हि.स.)। प्रदेश में सबसे कम जलकर राघौगढ़ नगर पालिका लगाती है, लेकिन उसके बाद भी लोग जलकर जमा नहीं कर रहे हैं। हालात यह है कि नपा पेयजल सप्लाई पर 20 लाख रुपये की बिजली की खपत भी होती है। नपा क्षेत्र में जब बिजली गुल हो जाती है, तो उस समय दो जनरेटरों को चालू कर 40 हजार घरों में पेयजल की सप्लाई की जाती है, जिससे डीजल की भी खपत बढ़ जाती है। पिछले 20 वर्ष से राघौगढ़ में नल कनेक्शनधारियों से जलकर के नाम पर केवल 15 रुपये महीने का बिल भेजा जा रहा है, लेकिन उसके बाद भी नपा प्रशासन का 40 लाख रुपये का जलकर बकाया है। अब जलकर की वसूली के लिए नपा कार्ययोजना तैयार कर रही है। नगर पालिका राघौगढ़ के 24 वार्डों में 130 ट्यूबैलों के माध्यम से 40 हजार घरों में पेयजल की सप्लाई की जाती है। वहीं दूसरी ओर शुद्ध जल की सप्लाई को लेकर तीन फिल्टर प्लांट भी लगाए गए हैं। इन सब पर नपा प्रशासन का हर साल करोड़ों रुपये का खर्च होता है, लेकिन उसके बाद भी जलकर की वसूली नहीं हो पा रही है। जिससे नपा घाटे में जा रही है। हालांकि नपा प्रशासन का कहना है कि परिषद में पिछले 20 वर्ष से जलकर न बढ़ाने का निर्णय लिया जा रहा है, जिसकी वजह से प्रदेश में सबसे कम जलकर राघौगढ़ नपा में लगता है। 73 वर्गकिलोमीटर क्षेत्र में फैली नपा,पेयजल का संकट नहीं नपा अध्यक्ष आरती महेंद्र शर्मा का कहना है कि राघौगढ़ नपा क्षेत्र 73 वर्गकिलोमीटर में फैल हुआ है। गुना की नगर पालिका भी राघौग? से छोटी है। साथ ही नगर में पेयजल संकट भी नहीं है। बंदरगढ़ प्लांट से हर रोज 40 हजार घरों में पेयजल की सप्लाई की जा रही है। उनका कहना है कि शासन द्वारा जलाआवर्धन योजना पर भी काम किया जा रहा है। 22 लाख की वसूली के लिए करेंगे मुनादी राघौगढ़ नपा प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि नगर में उपभोक्ताओं से जलकर की वसूली के लिए नगर में मुनादी कराई जाएगी। यह पहल 10 दिन के बाद हर वार्ड और मोहल्लों शुरू होगी। अध्यक्ष आरती महेंद्र शर्मा का कहना है कि पानी की बर्बादी रोकने के लिए भी जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक