employment-training-given-to-women-women-under-self-reliance-india-campaign
employment-training-given-to-women-women-under-self-reliance-india-campaign
मध्य-प्रदेश

आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत युवतियों-महिलाओं को दिया गया रोजगार का प्रशिक्षण

news

रतलाम, 21 फरवरी (हि.स.)। महिला सशक्तिकरण के अंतर्गत महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु रोजगार से जोडऩे के लिए सृष्टि समाज सेवा समिति द्वारा गठित तेजस्वी दल की युवतियों ने नई पहल की शुरूआत की। समिति अध्यक्ष सतीश टाक ने रविवार को बताया कि कोविड के बाद कई परिवारों के सामने संकट की स्थिति उत्पन्न हुई है। जिससे उन्हें आर्थिक रूप से भी परेशानीयो से रुबरु होना पड़ रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए संस्था की युवतियों ने जरूरत मंद एवं ग्रहणी महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाने के लिए गाय के गोबर से निर्मित प्राकृतिक हर्बल धूपबत्ती बनाने का प्रशिक्षण समिति द्वारा दिया जा रहा है। कार्यक्रम समन्वयक दिव्या श्रीवास्तव ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के लिए टीम का गठन किया गया है। उक्त टीम सचिव पल्लवी टाक के नेतृत्व में उपाध्यक्ष अर्पित उपाध्याय, सयुंक्त सचिव यामिनी राजावत,काजल टाक युवतियों एवं महिलायों को प्रशिक्षण देंगे। आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत महिलाओं के प्रशिक्षण कार्य मे कोषाध्यक्ष शुभम सिखवाल, सलाहकार महेंद्र बारूपाल,सहित अन्य सदस्य सहयोग करेंगे। संस्था ये सभी सामग्री उपलब्ध करवाएगी जो कि निर्मित होने के बाद उनसे लेकर बाजार में दुकानों पर उपलब्ध करवाई जाएगी। इस से होने वाली आय का कुछ भाग श्रम के तौर पर महिलाओं को दिया जाएगा। संस्था द्वारा दो महीने पहले डोंगरे नगर निवासी यशोदा बाई को दीपक बत्ती बनाने का प्रशिक्षण दिया गया था जिससे आत्मनिर्भर बनकर वह इस कार्य में जुट गई आज वह घर पर दीपक बत्ती बनाकर प्रति माह ढाई से तीन हजार रुपये मासिक आय अर्जित कर रही है जिससे उनके घर खर्च में आर्थिक सहायता मिल रही है। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी