ईद-राखी के पहले घर पहुंचे 40 नवजात बच्चे सहित 80 प्रवासी मजदूर, खुले में रहने को थे मजबूर, IBC 24 की पहल रंग लाई
ईद-राखी के पहले घर पहुंचे 40 नवजात बच्चे सहित 80 प्रवासी मजदूर, खुले में रहने को थे मजबूर, IBC 24 की पहल रंग लाई
मध्य-प्रदेश

ईद-राखी के पहले घर पहुंचे 40 नवजात बच्चे सहित 80 प्रवासी मजदूर, खुले में रहने को थे मजबूर, IBC 24 की पहल रंग लाई

news

रतलाम । जिले में IBC24 कि खबर का बड़ा असर हुआ है। खबर दिखाने के बाद प्रशासन हरकत में आया और प्रवासी लोगों को महाराष्ट्र के वर्धा जिले में भिजवाने की मदद की। दरअसल IBC24 ने कल खबर दिखाई थी कि रतलाम में फंसे महाराष्ट्र के प्रवासी लोग खुले रहने को मजबूर थे। ये भी राज्यपाल अनुसुइया उइके ने राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री... प्रवासी 80 लोगों में करीब 40 दुध मुंहे बच्चे भी शामिल थे। IBC24 ने खबर दिखाई थी कि ये प्रवासी खुले मैदान रहने को मजबूर थे, जिसके बाद प्रशासन ने सुध ली और उनको गृहग्राम भेजने की व्यवस्था की। ये भी क्या आपका भी पुराने PF अकाउंट में पैसा फंसा है? इस तरह नए खाते में ... IBC24 हर मदद के लिए हमेशा सदा तत्पर रहकर कार्य करता है। प्रशासनिक अधिकारियो ने भी माना है किIBC24 कि खबर के बाद प्रशासन से सुध ली है, जिसके चलते आज प्रवासी अपने शहर पहुंच रहे हैं। ईद-राखी के पहले घर पहुंचे 40 नवजात बच्चे सहित 80 प्रवासी मजदूर, खुले में रहने को थे मजबूर, IBC 24 की पहल रंग लाई-www.ibc24.in