जिले को 18 क्लस्टर में बाटा

जिले को 18 क्लस्टर में बाटा
divide-the-district-into-18-clusters

-210 पंचायतों में बने क्वारंटाइन सेंटर हरदा, 29 अप्रैल (हि.स.)। जिले के ग्रामीण अंचल में कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में सकारात्मक प्रयास किया जा रहा है। जिले की सभी 210 पंचायतों को 18 जोन में बैठकर नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। जिम्मेदारी व जवाबदारी सोंप कर सर्वे कार्य कराया जा रहा है और संक्रमितों में किट को प्रभावी तरीके से वितरण किया जा रहा है। संक्रमण के आधार रेड, यलो और ग्रीन जोन में बांटकर संक्रमण रोकने के पुरजोर प्रयास प्राण प्रण से किए जा रहे हैं। शहरों में लॉक डाउन के नियमों का कड़ाई से पालन किया जा रहा है, जिसमें परिणाम स्वरूप संक्रमितों की संख्या में कमी आई है। ग्रामीण अंचल से अब ज्यादा केश आ रहे हैं जिस को ध्यान में रखते हुए पूरा फोकस गांव पर है । सभी पंचायत मुख्यालय में क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए हैं, 210 पंचायतों में बने क्वारंटाइन सेंटर 1200 लोगों के ठहरने की सुविधा है। ज्यादा संख्या होने पर होम-क्वारंटाइन की दिशा में पहल की जाएगी। जिले को 18 क्लस्टर में बांटा गया है क्लस्टर प्रभारी द्वारा ग्राम पंचायत का सर्वे कराया जाएगा । सर्वे के दौरान कितने परिवारों में संपर्क किया गया, सर्दी, खांसी, बुखार आदि के लक्षण पाए गए व्यक्तियों की संख्या कितनों को मेडिकल किट का वितरण किया गया । कितने व्यक्तियों को आइसोलेशन क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट किया गया उनके नाम, पिता का नाम, आयु, मोबाइल नंबर, आइसोलेशन और क्वारंटाइन सेंटर का नाम आदि सर्वे में देना पड़ेगा। क्लस्टर प्रभारी ओर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत के माध्यम से कोविड-19 प्रतिदिन सर्वे एवं किट वितरण की जानकारी जिले को दी जाएगी। रेड जोन में रोलगांव, कमताड़ा, हंडिया, अबगांव खुर्द, देवतालाब, साल्याखेड़ी, मगरधा, रिजगांव, बालागांव, खामापड़वा, बागरूल, रैसलपुर, बेसवा उवारी, मागरूल, कोलीपुरा, नयापुरा, डगावा शंकर, मसनगांव, पचोला, गहाल, धुरगाडा, पलासनेर, भादूगांव और आदमपुर शामिल है। यलो जोन में जीजगांव खुर्द, भुन्नास, कनारदा, कुकरावत, केलनपुर शामिल है और ग्रीन जोन में पानी वाली पंचायतों में बूंदड़ा, नकवाड़ा, सिरकंबा, खेड़ीनीमा, हीरापुर, सोनतलाई, बिछोला माल, सिगौन ,छिदगांव, नीमगांव, काकरदा, हनीफाबाद, ऊंवा, कचबेड़ी, धनगांव, सुखरास, कड़ोला उबारी, भाटपरेटिया, मोहनपुर, बीड,“ रन्हाई कलॉ, डगावां नीमा, सोनखेड़ी शामिल है। डॉ रामकुमार शर्मा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की रोकथाम के लिए तत्परता पूर्वक कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिहाज से जिले को 18 क्लस्टर में बांटा गया है। क्लस्टर प्रभारी बनाकर 13 पंचायतों में सर्वे कर मेडिकल किट वितरण का कार्य सौंपा गया है। टिमरनी जनपद के करताना में बीएल गोलिया, कायदा में राकेश शर्मा, रहटगांव में विष्णु पवार, छिदगांव मेल में के एल रघुवंशी, टेमागांव में के एस कामले, सोडलपुर में सागर नीले, चारूवा में सुश्री रेखा मंडलोई, मांदला में आनंद बोरासी, मोरगढ़ी में मोहित गोयल, सोमगांव कलॉ में जितेंद्र चैहान, खुदिया में एच एल गोहिया, खिरकिया मे श्रीमती सुनीता सेजकर, हंडिया में सैयम महालहा, अबगांव कलॉ में सुरेश मालवीय, देवतालाब में प्रवीण वर्मा, मगरधा में गणेश पाल, मसनगांव में सुरेश व्यास, सोनतलाई में शंकरलाल मंडराई, नोडल अधिकारी क्लस्टर अधिकारी बनकर अपने प्रभार की पंचायतों में ग्राम पंचायत स्तरीय दलों गतिविधियों के साथ बैठक कर जन जागरण हेतु प्रचार-प्रसार करें, सर्वे करें और कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में विशेष प्रयास करें । क्लस्टर अधिकारी रोजाना रिपोर्ट मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत हरदा, खिरकिया, टिमरनी को देंगे, वहां से जानकारी जिले में आएगी । जिसे ई-पोर्टल पर अपडेट कर जिले में चल रहे कार्यक्रमों को देश-प्रदेश में प्रचार-प्रसार किया जाएगा। कोरोना रोकथाम के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे, ग्रामीण अंचल पूरा फोकस दिया जा रहा है। क्या कहते हैं अधिकारी- जिले की सभी 210 पंचायतों में 1200 की क्षमता वाले क्वारंटाइन सेंटर बनाकर और जिले को 18 क्लस्टर में बांटकर कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में प्रभावी कदम उठाया जा रहा है । रेड, येलो और ग्रीन जोन में पंचायतों को बांटकर सर्वे और मेडिकल किट का वितरण करवाया जा रहा है। नोडल अधिकारियों को सर्वे एवं मेडिकल किट वितरण की रोजाना रिपोर्ट सीईओ जनपद पंचायत को देने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। डॉ -रामकुमार शर्मा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत हरदा हिन्दुस्थान समाचार/प्रमोद सोमानी