CPI charged with daub in the poisonous liquor case
CPI charged with daub in the poisonous liquor case
मध्य-प्रदेश

माकपा ने जहरीली शराब मामले में लगाया लीपापोती का आरोप

news

कहा-शराब माफियाओं के राजनीतिक कनैक्शन भी किये जाएं उजागर भोपाल, 14 जनवरी (हि.स.)। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने मुरैना जिले में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में जिला प्रशासन पर लीपापोती का आरोप लगाया है। साथ ही मामले में शराब माफियाओं का राजनीतिक कनैक्शन उजागर करने की मांग की है। पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने गुरुवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा है कि जहरीली शराब से अभी तक हुई मौतों को लेकर प्रशासन द्वारा कुछ लोगों पर दर्ज की गई एफआईआर और गिरफ्तारी सिर्फ लीपापोती का प्रयास है। जब तक शराब माफियाओं के राजनीतिक रिश्ते नहीं तलाशे जाते, तब तक असली अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि शिवपुरी में एक महिला नेत्री के घर पर मिले अवैध शराब के जखीरे ने साबित कर दिया है कि सत्ताधारी पार्टी ही शराबखोरी कर प्रदेश के गरीब नागरिकों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया है कि भू-माफिया, खनन माफिया, खदान माफिया, रेत माफिया जैसे अवैध कारोबारियों के नाम से जानी जाने वाली भाजपा में अब शराब माफियाओं का नाम भी जुड़ गया है। उन्होंने मांग की है कि प्रभावित गांवों में शराब सप्लाई करने वाले ठेकेदार का नाम उजागर कर उसके राजनीतिक रिश्ते भी उजागर किए जाएं तथा उसके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाये। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश-hindusthansamachar.in