corona39s-report-met-in-eight-hours-kamal-nath-discussed-with-chief-minister
corona39s-report-met-in-eight-hours-kamal-nath-discussed-with-chief-minister
मध्य-प्रदेश

कोरोना की रिपोर्ट आठ घण्टे में मिले, कमलनाथ ने की मुख्यमंत्री से चर्चा

news

छिन्दवाड़ा, 05 अप्रैल (हि.स.)। जिला मुख्यालय सहित सम्पूर्ण जिले में महामारी का रूप लेते जा रहे बढ़ते कोरोना के संक्रमण को लेकर चिंतित पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से दूरभाष पर गहन चर्चा करते हुये बढ़ती बीमारी की रोकथाम के ठोस व सार्थक प्रयास किये जाने के साथ ही स्वास्थ्य सुविधाओं में विस्तार किये जाने कि मांग की। कमलनाथ ने कोरोना नियंत्रण को लेकर मुख्यमंत्री से हुई चर्चा में कहा कि जिला चिकित्सालय में कोरोना की जांच के साधन अत्यंत कम है। संक्रमित व्यक्ति की जांच के उपरांत उसके कोरोना प्रभावित होने या न होने की जानकारी प्राप्त होने में 24 घंटे से 48 घंटों का समय लग रहा है। जो कि पीडि़त व्यक्ति एवं उसके परिजनों के लिये ज्यादा कष्टप्रद है। अतः कोरोना की जांच होने के उपरांत अधिक से अधिक 8 घंटों में पीडि़त परिवार तक जांच रिपोर्ट मिलनी अथवा पहुंचनी चाहिए। कमलनाथ ने कहा कि कोरोना जांच के उपरांत रिपोर्ट आने तक के समय में मरीज की स्थिति दुविधापूर्ण बनी रहती है। जो संक्रमित नहीं है उसे भी संक्रमित वातावरण में रहना पड़ रहा है और जो संक्रमित है उनकी रिपोर्ट आने तक पर्याप्त उपचार न मिलने से उनकी स्थिति बिगड रही है अतः यह आवश्यक हो गया है कि जांच रिपोर्ट हर हाल में 8 घंटों में उपलब्ध कराई जाए। कमलनाथ ने चर्चा के दौरान यह भी कहा कि आम आदमी के दिल में जिला अस्पताल में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर एक निराशा का वातावरण भी बन चुका है। इस मानसिकता को भी हमे समझना होगा तथा ऐसे प्रयास करने होंगे, ताकि जन सामान्य भी निर्भिक होकर सहयोगी बन सके। कमलनाथ ने मुख्यमंत्री से हुई चर्चा में बार-बार इस बात का उल्लेख किया कि सम्पूर्ण जिले का हर परिवार स्वास्थ्य सुविधाएं बढाये जाने की बातें कर रहा है। सभी भयभीत है इसलिए यह आवश्यक है कि प्रदेश सरकार व स्थानीय प्रशासन युद्ध स्तर पर कार्यवाही करते हुये इस संक्रमण को रोकने में मुस्तेदी दिखाये। हिन्दुस्थान समाचार/संदीपसिंह चौहान