कोरोना का असरः सेवानिवृत्ति कार्यक्रम रेलवे बोर्ड स्तर पर वर्चुअल मींस के माध्यम से होगा
कोरोना का असरः सेवानिवृत्ति कार्यक्रम रेलवे बोर्ड स्तर पर वर्चुअल मींस के माध्यम से होगा
मध्य-प्रदेश

कोरोना का असरः सेवानिवृत्ति कार्यक्रम रेलवे बोर्ड स्तर पर वर्चुअल मींस के माध्यम से होगा

news

रतलाम, 23 जुलाई(हि.स.)। कोरोनावायरस के कारण रेलवे बोर्ड द्वारा प्रतिदिन अपने कार्य प्रणाली में परिवर्तन किए जा रहे हैं, कई परिवर्तन रेल कर्मचारियों की कार्यप्रणाली के संबंध में हो रहे हैं, तथा कई परिवर्तन आम जनता की रेल सुविधाओं को लेकर किए जा रहे हैं। भारत सरकार रेलवे बोर्ड रेल मंत्रालय के ज्वाइंट डायरेक्टर बी मजूमदार द्वारा जारी एक आदेश द्वारा यह निर्णय लिया गया कि कोरोना वायरस के कारण प्रतिमाह की अंतिम तारीख को रेल कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति पर होने वाले आयोजन जो कि महाप्रबंधक, मंडल प्रबंधक , कारखाना एवं प्रोडक्शन यूनिट स्तर पर आयोजित किए जाते थे उन्हें अब रेलवे बोर्ड द्वारा वर्चुअल मींस के माध्यम से आयोजित किए जाने का प्रस्ताव लिया गया है, इस पर सभी महाप्रबंधक, मंडल रेल प्रबंधक स्तर, कारखाना स्तर एवं प्रोडक्शन यूनिट, को अपने एक एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर उसकी जानकारी रेलवे बोर्ड को दी जाना है, तथा सेवानिवृत्त कर्मचारियों की जानकारी प्रत्येक माह की 20 तारीख तक दी जाना है। यह कार्यक्रम प्रतिमाह की अंतिम तारीख को 5 बजे ऑल इंडिया बेसिस पर सोशल डिस्टेंसिंग अन्य सभी नियमों का पालन करते हुए वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित होगा इस वीडियो कांफ्रेंसिंग में माननीय रेल मंत्री, रेल राज्य मंत्री संभवतया अपनी उपलब्धि पर उपस्थित रहकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यक्रम को संबोधित करेंगे! रेल कर्मचारी नेता अशोक तिवारी ने गुरुवार को बताया कि पिछले 4 माह से जो कर्मचारी सेवानिवृत्त हो रहे थे उन्हें यह सम्मान सेवानिवृत्ति पर नहीं मिल रहा था रेलवे बोर्ड द्वारा जो यह पहल की गई है स्वागत योग्य है! सेंट्रल गवर्नमेंट एवं रेलवे पेंशनर एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रकाश व्यास एवं पूर्व यूनियन मंडल मंत्री रामखेलावन कुमायूं ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण रेल कर्मचारी अपनी पूरी सेवा का सेवानिवृत्ति के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित नहीं कर पा रहा था रेलवे बोर्ड द्वारा वर्चुअल मींस के माध्यम से जो सम्मान सेवानिवृत्त कर्मचारियों को दिया जा रहा है, निश्चित ही रेल कर्मचारी और उसका परिवार खुशी जाहिर करेगा! हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in