महारानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस पर कांग्रेस ने सिंधिया पर साधा निशाना

महारानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस पर कांग्रेस ने सिंधिया पर साधा निशाना
congress-targets-scindia-on-maharani-laxmibai39s-sacrifice-day

गुना, 18 जून (हि.स.)। कभी कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोडऩे के बाद कांग्रेस नेताओं को गड़े मुर्दे उखाडऩे की याद आने लगी। शुक्रवार को महारानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस पर कांग्रेसजनों ने सिंधिया पर जमकर निशाना साधा। दरअसल देश के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाकर देश के लिए कुर्बान होने वाली झांसी की रानी वीरांगना लक्ष्मीबाई को उनके बलिदान दिवस पर कांग्रेसजनों ने स्मरण किया। इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने संकल्प लिया कि वीरांगना लक्ष्मीबाई को आजादी के आंदोलन में कर्तव्य निभाने में बाधा बनने वाले राज परिवारों को वह सबक सिखाएंगे। कांग्रेसजनों ने हनुमान चौराहे पर वीरांगना लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस पर स्मरण करते हुए स्वतंत्रता की पहला ज्वाला भडक़ाने में उनका महत्वपूर्ण योगदान दिया। कांग्रेस जिला अध्यक्ष हरिशंकर विजयवर्गीय ने कहा कि यदि वीरांगना को कुछ राजपरिवारों द्वारा सहयोग किया जाता तो प्रथम आंदोलन के दौरान ही देश आजाद होता। इस तरह लगभग 100 वर्षों की अतिरिक्त गुलामी हमें नहीं झेलना पड़ती। झांसी की रानी ने अपने पराक्रम से देश को आजादी की राह दिखाई। उन्हें याद करते हुए कांग्रेसजन उनके बलिदान दिवस पर संकल्प लेते हैं कि आजादी आंदोलन में बाधा बनने वाले सभी राजपरिवारों को सबक सिखाया जाएगा। इस मौके पर कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक

अन्य खबरें

No stories found.