कांग्रेस को पेट्रोल-डीजल के मुद्दे पर आंदोलन करने का अधिकार नहीं: नरोत्तम मिश्रा

कांग्रेस को पेट्रोल-डीजल के मुद्दे पर आंदोलन करने का अधिकार नहीं: नरोत्तम मिश्रा
congress-has-no-right-to-agitate-on-petrol-diesel-issue-narottam-mishra

भोपाल, 11 जून (हि.स.)। मध्य प्रदेश में पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की मूल्य वृद्धि के खिलाफ शुक्रवार को कांग्रेस हल्ला बोल प्रदर्शन कर रही है। इसे लेकर छह महीने बाद कांग्रेस एक बार फिर सडक़ पर आ गई है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर समेत सभी जगह अपने क्षेत्रों में वरिष्ठ नेता इसमें शामिल हो रहे हैं। कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने निशाना साधा है। उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि जो लोग शीशे के घर में रहते हैं वो दूसरों के घर मे पत्थर नहीं फेकते। कमलनाथ ने रेट घटाने के बजाय रेट बढाए थे उन्हें किसने अधिकार दिया था। कांग्रेस को पेट्रोल-डीजल के मुद्दे पर आंदोलन करने का अधिकार नहीं है। वचनपत्र में तेल के दाम कम करने का वादा करने वाली कांग्रेस ने सरकार में आते ही दाम बढ़ा दिए। कांग्रेस के इसी दोहरे चरित्र के कारण उसके किसी भी आंदोलन में जनता की भागीदारी नहीं होती, सिर्फ चुके हुए नेता नजर आते हैं। नि:स्वार्थ भाव से देश सेवा में जुटे है पीएम शिवसेना सांसद संजय राउत की ओर से पीएम मोदी की तारीफ करने पर मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सांच को आंच नहीं रहती, सत्य परेशान हो सकता है परास्त नहीं। देश जानता है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी सब कुछ त्याग कर निस्वार्थ भाव से राष्ट्र सेवा कर रहे हैं। उनकी सरकार सबका साथ,सबका विकास और सबका विश्वास के मूलमंत्र को साकार कर रही है। जो भी दलगत राजनीति से ऊपर उठकर प्रधानमंत्री जी को देखेगा उनका यही रूप नजर आएगा। कोरोना संक्रमण से राहत की स्थिति में मप्र प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर मंत्री मिश्रा ने कहा कि कोरोना नियंत्रण की स्थिति में है और इसीलिए धीरे-धीरे अनलॉक की प्रक्रिया को भी और अधिक बढ़ाया जा रहा है। मात्र 393 नए पॉजिटिव केस आए हैं। जबकि एक हजार 240 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। रिकवरी रेट 98 प्रतिशत से अधिक है संक्रमण की दर आधा प्रतिशत से भी कम है। कोरोना की तीसरी लहर के दृष्टिगत टेस्टिंग की प्रक्रिया निरंतर जारी है, कल भी 79 हजार कल भी टेस्ट किए गए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय