common-citizens-should-not-have-any-kind-of-trouble-and-action-should-also-be-taken-against-those-who-make-unnecessary-movements---collector
common-citizens-should-not-have-any-kind-of-trouble-and-action-should-also-be-taken-against-those-who-make-unnecessary-movements---collector
मध्य-प्रदेश

आम नागरिकों को किसी तरह की परेशानी न हो तथा अनावश्यक आवाजाही करने वालों पर कार्यवाही भी हो- कलेक्टर

news

रतलाम, 29 अप्रैल (हि.स.)। कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने जिले के राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोरोना कर्फ्यू के दौरान प्रतिबंधात्मक आदेश में दिए गए निर्देशों का सख्ती से पालन सुनिश्चित कराएं। कोरोना संक्रमण की चैन को ब्रेक करने के लिए आवश्यक है कि इन निर्देशों का सख्ती से पालन सुनिश्चित हो। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी, एडिशनल एसपी सुनील पाटीदार, इंद्रजीत बाकलवार, एडीएम जमुना भिड़े अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं पुलिस मौजूद थे। कलेक्टर ने कहा कि सभी अधिकारी इस दौरान ध्यान दें कि आम नागरिकों को किसी तरह की परेशानी न हो तथा अनावश्यक आवाजाही करने वालों पर कार्यवाही भी हो । उन्होंने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए रेंडम सेंपलिंग की जाए। इसमें खाद्य विभाग, नापतोल विभाग, खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को तैनात करें। उन्होंने कहा कि होम डिलीवरी में जो सामान आम नागरिकों तक पहुंच रहा है उसकी दरें भी सुनिश्चित करें ताकि कोई अधिक दाम नहीं वसूल सके। कालाबाजारी रोकने के लिए हेल्पलाईन नंबर जारी पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने कहा कि सभी पुलिस अधिकारी अपने-अपने थाना क्षेत्रों में प्रतिबंधात्मक आदेश का पालन सुनिश्चित करें। नागरिकों की आवाजाही पर रोक लगाएं तथा अनावश्यक घूमने वालों पर कार्रवाई करें। इस दौरान वर्चुअल रूप से जुड़े सभी अनु विभागीय अधिकारियों को भी उनके क्षेत्रों से संबंधित आवश्यक निर्देश दिए गए। पुलिस अधीक्षक ने यह भी कहा कि कालाबाजारी को रोकने के लिए कोई भी व्यक्ति, दुकानदार या संस्था किराना का सामान, आवश्यक सामग्री जैसे तेल, साबुन आदि की कालाबाजारी कर रहा है या उक्त वस्तुओं को निर्धारित मूल्य से अधिक दामों पर बेच रहा है तो हेल्पलाईन नंबर 7049162265,07412-270474 या 07412-222223 पर नागरिक बगैर किसी भय के काल या वाट्सएप के माध्यम से सूचना से अवगत कराए। सूचनाकर्ता की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार / शरद जोशी