मुख्यमंत्री शिवराज ने रीवा में की संभाग के जिलों की कोविड-19 नियंत्रण उपायों की समीक्षा

मुख्यमंत्री शिवराज ने रीवा में की संभाग के जिलों की कोविड-19 नियंत्रण उपायों की समीक्षा
chief-minister-shivraj-reviews-kovid-19-control-measures-of-divisional-districts-in-rewa

भोपाल, 13 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रीवा एनआईसी केन्द्र से संभाग के सतना, सीधी एवं सिंगरौली जिलों में कोविड-19 नियंत्रण के उपायों की समीक्षा की। उन्होंने संबंधित जिलों के कलेक्टर से कोरोना संक्रमण नियंत्रण की जानकारी ली तथा क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों, जन-प्रतिनिधियों से संवाद स्थापित कर सुझाव प्राप्त किये। चौहान ने अपने उद्बोधन में कहा कि सीधी, सतना व सिंगरौली जिला अस्पतालों सहित ग्रामीण स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन युक्त बेड के साथ आईसीयू बेड बढ़ाने की कार्ययोजना बनायें, ताकि आपदा के समय में कोरोना संक्रमितों को नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्रों में ही उपचार की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित हो सके। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी को सक्रिय करते हुए कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने का कार्य प्राथमिकता से हो। गाँववासी स्वत: ही कोरोना कर्फ्यू का पालन करायें, ताकि इस महामारी से जल्दी निजात मिल सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि विन्ध्य अंचल के रहवासी पूरी दृढ़ता से कोरोना संक्रमण के विरूद्ध लड़ाई में प्रशासन का सहयोग देंगे, तभी हम मई माह में ही 5 प्रतिशत से कम पॉजटिविटी रेट में आ पायेंगे व कोरोना को हटाने में सफल होंगे। चौहान ने कहा कि संभाग के जिलों में कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार हुआ है तथा पॉजटिविटी रेट कम हुआ है। जरूरत इस बात की है कि कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से जनता के सहयोग से पालन हो। किल कोरोना अभियान के तहत गांवों के घर-घर में सर्दी, खांसी, जुकाम के मरीजों की पहचान कर उन्हें प्राथमिक उपचार की दवाई की किट दी जाय। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की उचित देखभाल व स्वास्थ्य की नियमित जानकारी ली जाय। उन्होंने टीकाकरण कार्य में गति लाने के निर्देश भी दिये। श्री चौहान ने जिलों में शिशु आईसीयू स्थापित करने की बात कही ताकि बच्चों के संक्रमण का इलाज बेहतर ढंग से हो सके। आईसीयू बेड बढ़ाने के निर्देश मुख्यमंत्री शिवराज ने सतना के जिला अस्पताल में 20 अतिरिक्त आईसीयू बेड, सीधी में 10 आईसीयू बेड तथा सिंगरौली में प्रथम चरण में 30 सहित कुल 50 अतिरिक्त आईसीयू बेड स्थापित करने की कार्ययोजना बनाने के निर्देश संबंधित कलेक्टर्स को दिये। उन्होंने जिलों में ऑक्सीजन की उपलब्धता बेड की स्थिति तथा कोविड केयर सेंटर के विषय में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। श्री चौहान ने अपेक्षा की कि सभी जनप्रतिनिधि व क्राइसेस कमेटी के सदस्य पूरी सक्रियता से कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने व संक्रमितों को समय पर इलाज दिलाने की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। इस दौरान वहीं, सतना सांसद गणेश सिंह ने सतना जिला अस्पताल में वेंटिलेटर संचालन का मेडिकल स्टाफ की प्रशिक्षण देने, ग्रामीण क्षेत्रों में पर्याप्त दवाईयों की उपलब्धता तथा निर्माणधीन मेडिकल कालेज में अस्पताल स्थापना का सुझाव दिया। कलेक्टर सतना अजय कटेसरिया ने बताया कि जिले में पॉजिटिविटी दर घटकर 10 प्रतिशत पर आ गई है। कोरोना नियंत्रण के सभी उपाय सुनिश्चित कराये जा रहे हैं। सीधी जिले की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी से पॉजटिविटी दर व किल कोरोना अभियान की विस्तार से जानकारी ली। हिन्दुस्थान समाचार/डॉ. मयंक चतुर्वेदी

अन्य खबरें

No stories found.