मुख्यमंत्री ने देखी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जीवनी पर आधारित प्रदर्शनी

मुख्यमंत्री ने देखी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जीवनी पर आधारित प्रदर्शनी
chief-minister-saw-exhibition-based-on-biography-of-netaji-subhash-chandra-bose

भोपाल, 06 मार्च (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने जबलपुर प्रवास के दौरान शनिवार को गोल बाजार स्थित शहीद स्मारक परिसर में लगाई गई नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन पर आधारित पेटिंग प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस दौरान केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल, आयुष एवं जल संसाधन राज्य मंत्री रामकिशोर कांवरे, सांसद राकेश सिंह सहित विधायक, जन-प्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन पर आधारित इस प्रदर्शनी की सराहना की। प्रदर्शनी में नेताजी द्वारा आजादी के दौरान किये गये महत्वपूर्ण कार्यों और उपलब्धियों को प्रभावी रूप से प्रस्तुत किया गया। यह प्रदर्शनी केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद पटेल के मार्गदर्शन में केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा आयोजित की गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को केन्द्रीय राज्य मंत्री ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित भी किया। इस मौके पर प्रदर्शनी स्थल पर ललित कला महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा वीर रस एवं देशभक्ति पर आधारित गीतों की बैंड के माध्यम से प्रस्तुति दी गई। मुख्यमंत्री ने सड़क किनारे रूककर पी चाय, दुकान संचालक से जानी कुशलक्षेम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को शहीद स्मार्क परिसर गोल बाजार में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के बाद विश्राम भवन के लिये रवाना हुए। रास्ते में उन्होंने अपना वाहन शंकराचार्य चौक छोटी लाइन फाटक स्थित नर्मदा टी-स्टॉल पर रूकवाया और चाय पीने की इच्छा जताई। नर्मदा टी-स्टॉल के संचालक पप्पू गुप्ता ने मुख्यमंत्री अचानक अपनी टी-स्टॉल पर देख आश्चर्य व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने पप्पू यादव से कहा कि चाय पीने की इच्छा हुई, तो बस रूक गये आपकी दुकान पर। मुख्यमंत्री की इच्छानुसार पप्पू गुप्ता ने उनके लिये जायकेदार चाय बनाकर पेश की। मुख्यमंत्री ने चाय पी और उसका भुगतान भी स्वयं किया। चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने टी-स्टॉल के संचालक से परिवार की जानकारी ली और उनकी कुशलक्षेन पूँछी। मुख्यमंत्री का इस तरह अचानक किसी टी-स्टॉल पर रूककर चाय पीना स्थानीय लोगों के लिये आकर्षण का केन्द्र बन गया। यहाँ एकत्र हुए लोगों से भी मुख्यमंत्री ने आत्मीय बातचीत की। मुख्यमंत्री की यही सहजता उन्हें प्रदेश की जनता में लोकप्रिय बनाती है। मुख्यमंत्री ने नर्मदा टी-स्टाल के संचालक पप्पू गुप्ता से पूछा कि उसे प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना का लाभ मिला है या नहीं। मुख्यमंत्री के आत्मीय व्यवहार से उत्साहित पप्पू ने बताया कि न केवल उसे इस योजना के तहत 10 हजार रुपये का ऋण प्राप्त हुआ है, बल्कि उसने ऋण की राशि में से 5 हजार रुपये चुका भी दिये हैं। ताकि अगली बार उसे ज्यादा ऋण राशि मिल सके। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश