छतरपुर में एक माह के बच्चे सहित 13 और हरदा में 10 व्यक्तियों ने दी कोरोना को मात
छतरपुर में एक माह के बच्चे सहित 13 और हरदा में 10 व्यक्तियों ने दी कोरोना को मात
मध्य-प्रदेश

छतरपुर में एक माह के बच्चे सहित 13 और हरदा में 10 व्यक्तियों ने दी कोरोना को मात

news

छतरपुर/हरदा, 27 जुलाई (हि.स.)। मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीज तेजी से सामने आ रहे हैं तो वहीं पुराने मरीज स्वस्थ होकर अपने घर भी लौट रहे हैं। इसी क्रम में छतरपुर में सोमवार को एक माह के बच्चे समेत 13 मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर लौटे, जबकि हरदा जिले में भी 10 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। छतरपुर में सोमवार को कोरोना संक्रमण को मात देकर 13 योद्धा कोरोना संक्रमण से पूर्णत: स्वस्थ होने उपरांत डिस्चार्ज किये गए। इनमें एक माह का एक बच्चा भी शामिल है। सभी स्वस्थ हुए मरीजों ने शासन-प्रशासन सहित डाक्टरों, नर्सों, अन्य स्टॉफ आदि को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके स्वस्थ होने में इनकी अहम भूमिका रही है। कोविड केयर सेंटर प्रबंधन ने उन्हें स्वस्थ जीवन और उज्जवल भविष्य की शुभकामनाओं के साथ विदाई दी। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने डिस्चार्ज हुए व्यक्तियों को बधाई दी और कहा कि आज डिस्चार्ज किया गया एक माह का बच्चा उन लोगों के लिए एक उदाहरण है, जो कोरोना वायरस से डरते हैं। कोरोना से हमें डरना नहीं है, बल्कि हिम्मत और साहस के साथ उसका सामना करना है। हम जितना सतर्क रहेंगे, उतना ही खुद को सुरक्षित रख सकेंगे। इसलिए मेरा आप सभी से अनुरोध है कि बिना आवश्यक कारण के घर से बाहर ना निकलें और हाथों को नियमित सैनिटाइज करते रहें, जब भी बाहर जाएं मास्क जरूर लगाएं साथ ही सामाजिक दूरी के नियमों का पालन अवश्य करें। वहीं, हरदा के सीएमएचओ डॉ. किशोर कुमार नागवंशी ने बताया कि सोमवार को पोलिटेक्निक कॉलेज हरदा के कोविड केयर आइसोलेशन सेन्टर एवं कोविड केयर सेन्टर टिमरनी से कुल 10 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौटे। इनमें पलासनेर हरदा निवासी 38 वर्षीय पुरूष, 53 वर्षीय महिला एवं 36 वर्षीय पुरूष, त्रिमूर्ती कालोनी हरदा निवासी 62 वर्षीय पुरूष, गौर कालोनी हरदा निवासी 28 वर्षीय पुरूष, खेडीपुरा हरदा निवासी 45 वर्षीय पुरूष, शिक्षक कालोनी हरदा निवासी 40 वर्षीय पुरूष, वार्ड नम्बर 14 टिमरनी निवासी 40 वर्षीय पुरूष, वार्ड नम्बर 13 टिमरनी निवासी 41 वर्षीय पुरूष एवं वार्ड नम्बर 12 टिमरनी निवासी 50 वर्षीय महिला शामिल है। डॉ. नागवंशी द्वारा सभी स्वस्थ्य हुये मरीजों को 14 दिनो तक होम आइसोलेशन मे रहने की सलाह दी गई, साथ ही सभी स्वस्थ मरीजो को आश्यक दवाइयॉ एवं काढ़ा भी दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश तोमर/केशव-hindusthansamachar.in