चंबल एक्सप्रेस वे के लिए भूमि उपलब्ध कार्य में तेजी लाएं: संभागायुक्त

 चंबल एक्सप्रेस वे के लिए भूमि उपलब्ध कार्य में तेजी लाएं: संभागायुक्त
चंबल एक्सप्रेस वे के लिए भूमि उपलब्ध कार्य में तेजी लाएं: संभागायुक्त

मुरैना,25 जुलाई (हि.स.)। शनिवार को चम्बल प्रोग्रेस वे को लेकर चंबल भवन में बैठक हुई। बैठक में एक्सप्रेस वे के लिए ली जाने वाली भूमि को लेकर चर्चा हुई। इस अवसर पर रवीन्द्र कुमार मिश्रा ने कहा कि इस कार्य में तेजी लाई जाए। इस कार्य में भूमि उपलब्ध कराना एवं कहां कितनी निजी भूमि है और कितनी भूमि शासकीय भूमि है इसे अधिकारी निराक्रत करें, जिससे चम्बल एक्सप्रेस वे के कार्य में तेजी लाई जा सके। बैठक में संयुक्त कलेक्टर एल.एन.पाण्डेय, संयुक्त आयुक्त, (विकास) चम्बल संभाग राजेन्द्र सिंह, उप महा प्रबंधक, सड़क विकास निगम ग्वालियर पंकज ओझा, भू अर्जन अधिकारी, मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम ग्वालियर अर्जुन सिंह सैमिल, सहायक महाप्रबंधक, मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम चम्बल संभाग मुरैना पी.एस.राजपूत सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। कमिश्नर मिश्रा ने कहा कि पिछले दिनों मुख्य सचिव की अध्यक्षता में भारत माला योजनान्तर्गत प्रस्तावित चम्बल प्रोग्रेस वे के निर्माण के संबंध में चर्चा की गई थी, जिसमें प्रमुख सचिव, मध्यप्रदेश शासन, लोक निर्माण विभाग, मंत्रालय भोपाल द्वारा आयोजित बैठक के परिप्रेक्ष्य में चर्चा की जाकर तद्नुसार कार्यवाही करने हेतु निर्देश दिये गये थे। उन निर्देशों के तहत अधिकारी भूमि की जानकारी से अवगत करायें। उल्लेखनीय है कि श्योपुर, मुरैना एवं भिण्ड जिले में कुल 309.08 कि.मी. लंबाई का बनने वाले इस प्रोजेक्ट की लागत 6056 करोड़ रूपये प्रस्तावित है। प्रोजेक्ट हेतु आवश्यक भूमि का क्षेत्रफल 3099. 044 हे0 है। इस परियोजना में शासकीय भूमि का क्षेत्रफल 1463.533,निजी भूमि का क्षेत्रफल 1351.50 हैक्टेयर एवं वन भूमि का क्षेत्रफल 284.01 हैक्टेयर है। इसके अलावा निजी भूमि के शासकीय भूमि हेतु अदला बदली का प्रस्तावित रकवा लगभग 1351.50 हे0 है। हिन्दुस्थान समाचार/शरद-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.