central-government-is-ignoring-farmers-rawat
central-government-is-ignoring-farmers-rawat
मध्य-प्रदेश

किसानों की उपेक्षा कर रही है केन्द्र सरकार: रावत

news

मंदसौर 5 फरवरी (हि.स.)। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री रामनिवास रावत एक दिवसीय प्रवास के दौरान मंदसौर जिला कांग्रेस कार्यालय पहुंचे । संगठन पदाधिकारियों से परिचय एवं आगामी संगठन कार्यक्रमों की चर्चा हेतु आये रावत ने बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं में उर्जा भरते हुये विभिन्न बिंदुओ पर अपनी बात रखी। इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष नवकृष्ण पाटील, पूर्व विधायक श्रीमती पुष्पा भारतीय, पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया सहित कई पदाधिकारीगण उपस्थित थे। रावत ने कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुये कहा कि मंदसौर जिला किसान आंदोलन की जननी रहा है। सन 2018 में यहां से उठे आंदोलन में जो मांगें किसान रख रहे थे वे ही मांगें पुनः केन्द्र द्वारा थोपे गये काले कानून के बाद उठी है। उन्होनें किसान द्वारा पैदा फसल के भावों एवं स्टोरेज उपरांत भावों में अंतर की लडाई को असल मुद्दा बताते हुये कहा कि देश में उत्पादन करने वाले किसान से अधिक उसे बेचने वाला व्यक्ति अधिक लाभ कमाता है। केन्द्र सरकार द्वारा जो कानून लाया गया है उसमें फसल की भंडारण की सीमा निर्धारित नहीं है। किसान को उसकी लागत की तुलना में न्यूनतम समर्थन मूल्य का वादा कानून नहीं करना चाहता है जो केन्द्र की मोदी सरकार की नियत को साफ करता है। इस अवसर पर कांग्रेस नेतागण राकेश पाटीदार, परशुराम सिसोदिया, श्यामलाल जोकचंद्र, तरूण खिची, दीपकसिंह चैहान सहित बडी संख्या में ब्लाॅक कांग्रेस, मोर्चा संगठनो के पदाधिकारीगण, मंडलम अध्यक्ष, सेक्टर अध्यक्षगण आदि उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/अशोक झलौया-hindusthansamachar.in