प्रदेश सरकार को मजबूती देंगे आगामी उपचुनाव : भूपेंद्र सिंह
प्रदेश सरकार को मजबूती देंगे आगामी उपचुनाव : भूपेंद्र सिंह
मध्य-प्रदेश

प्रदेश सरकार को मजबूती देंगे आगामी उपचुनाव : भूपेंद्र सिंह

news

भोपाल, 23 जुलाई (हि.स.)। मध्यप्रदेश में होने जा रहे हैं उपचुनाव आम चुनाव जैसे महत्वपूर्ण है। यह उपचुनाव सरकार को मजबूती देंगे। उपचुनाव में हम शिवराज सरकार की उपलब्धियों और 15 महीने प्रदेश में रही कमलनाथ सरकार की विफलताओं से जनता को अवगत कराएं। जनता को बताएं कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने उसे कैसे छला और वादाखिलाफी की। वहीं भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने जो कहा उसे न सिर्फ पूरा किया बल्कि आम जनता की चिंता शिवराज सरकार कर रही है। यह बात विधानसभा उपचुनाव की प्रबंध समिति के संयोजक एवं प्रदेश सरकार के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने गुरूवार को महिला मोर्चा की बैठक में कही। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यालय पंडित दीनदयाल परिसर में गुरुवार को महिला मोर्चा की विधानसभा प्रभारी एवं सहप्रभारियों की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक को प्रदेश शासन के मंत्री एवं उपचुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह, प्रदेश मंत्री एवं मोर्चा प्रभारी कृष्णा गौर, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने संबोधित किया। मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष लता ऐलकर ने उपचुनाव में मोर्चा की भूमिका पर विस्तार से चर्चा की। बैठक का संचालन रज्ञा त्रिपाठी ने किया एवं आभार माया नारोलिया ने माना। आत्मनिर्भर भारत में सबकी भागीदारी सुनिश्चित हो : भूपेन्द्र सिंह बैठक को संबोधित करते हुए मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत बनाने का जो संकल्प लिया है उस संकल्प को हमें प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में पूरा करना है। इस संकल्प को पूरा करने में सभी की भागीदारी सुनिश्चित हो, इसके लिए प्रदेश सरकार लगातार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के माध्यम से आने वाले समय में हम लगातार जनता की सेवा करेंगे। उन्होंने कहा कि जिन विधानसभाओं में उपचुनाव है वहां मंडल स्तर पर पार्टी द्वारा सम्मेलन आयोजित किए जा रहे है। अभी तक 40 मंडलों के सम्मेलन संपन्न हो चुके है। हर मोर्चा को चुनाव में अलग अलग जिम्मेदारी दी गयी है। महिला मोर्चा सेक्टर प्रभारी और बूथ प्रभारी बना कर समिति का गठन करें। शिवराज सरकार माताओं-बहनों की सरकार : कृष्णा गौर पार्टी की प्रदेश मंत्री एवं मोर्चा की प्रदेश प्रभारी कृष्णा गौर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार महिलाओं के कल्याण और बेटियों को समर्पित सरकार है। 15 महीने में कमलनाथ सरकार ने महिला सशक्तिकरण को लेकर भाजपा सरकार की सारी योजनाएं बन्द कर दी थी। जिन परिस्थितियों में आज उपचुनाव हो रहा है, उसमें महिला मोर्चा की जिम्मेदारी बढ़ी है क्योंकि हम आधी आबादी का नेतृत्व करते हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी चुनाव में ऐतिहासिक मतों से विजयी हो उसके लिए हमें परिश्रम की पराकाष्ठा करना है। हर बूथ, हर घर तक मातृशक्ति को पहुंचकर भाजपा सरकार और कांग्रेस सरकार की नीति ओर नीयत के फर्क से अवगत कराना है। उपचुनाव में मातृशक्ति की निर्णायक भूमिका : पाराशर प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने महिला सशक्तिकरण को लेकर जो काम किए हैं वह भूतो न भविष्यति है। 15 महीने सत्ता में रही कमलनाथ सरकार ने कन्यादान योजना में बेटियों 51 हजार रुपये देने का वादा किया लेकिन 15 माह में एक भी बेटी को एक रुपए तक नहीं दिया। ऐसे अनेक उदाहरण है, जिसमें कमलनाथ सरकार ने मातृशक्ति से वादा खिलाफ़ी की। उन्होंने कहा कि मातृशक्ति की समाज मे स्वीकार्यता ज्यादा होती है। आप चुनाव में जब संपर्क करें तो जनता के समक्ष कांग्रेस सरकार की कार्यशैली को लेकर प्रश्न खड़ा करते हुए बताएं कि 15 वर्षो से शिवराज सरकार ने आमजन, महिलाओं बेटियों के लिए जो योजना चलाई उसे 15 महीने में ही कमलनाथ सरकार ने क्यों बन्द किया? उन्होंने कहा कि मातृशक्ति चुनाव में मोर्चा संभाले तो जीत सुनिश्चित है। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे-hindusthansamachar.in