भोपाल: रेमडेसिविर की कालाबाजारी के मामले में मेडिकल स्टोर संचालक समेत दो गिरफ्तार

भोपाल: रेमडेसिविर की कालाबाजारी के मामले में मेडिकल स्टोर संचालक समेत दो गिरफ्तार
bhopal-two-arrested-including-medical-store-operator-in-case-of-black-marketing-of-remedesvir

भोपाल, 07 मई (हि.स.)। कोरोना महामारी के दौरान रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी थमती नजर नहीं आ रही है। अभी हाल ही में पुलिस ने ऐसे ही मामले में जेके अस्पताल की एक नर्स और उसके बॉयफ्रेंड को गिरफ्तार किया था। गुरुवार रात को पुलिस ने एक मेडिकल स्टोर के संचालक समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। रात करीब ढाई बजे की गई इस कार्रवाई में पुलिस ने आरोपियों के पास से रेमडेसिविर के दो इंजेक्शन भी बरामद किये। गांधीनगर टीआई अरुण शर्मा ने बताया कि गुरुवार रात ढाई बजे इलाके में दो युवकों के इंजेक्शन की कालाबाजारी किए जाने की सूचना मिली थी। ड्यूटी पर तैनात एसआई समेत तीन लोगों की टीम को आरोपियों की तलाश में लगाया गया। रात तीन बजे गांधीनगर तिराहे पर दो युवक बाइक पर जाते मिले। टीम ने घेराबंदी कर दोनों को पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उनके पास से दो इंजेक्शन बरामद हुए। पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम छोला मंदिर निवासी सर्जनसिंह राजपूत निवासी चौपड़ा कला और सूखीसेवनिया निवासी गौरव लोधी बताया। सर्जनसिंह राजपूत मेडिकल स्टोर संचालक है और गौरव साथ में काम करता है। पूछताछ में दोनों ने बताया कि उनके पास रखे इंजेक्शन रेमडेसिविर हैं। वे इसे बेचने के लिए निकले थे। उन्होंने इसे 19 हजार रुपए में एक व्यक्ति से खरीदा था और इसे वह 27 हजार रुपए में बेचना चाह रहे थे। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है और आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे