भोपाल जैसा इंक्यूवेशन सेंटर अन्य स्मार्ट सिटी में भी बनायें : मंत्री सिंह
भोपाल जैसा इंक्यूवेशन सेंटर अन्य स्मार्ट सिटी में भी बनायें : मंत्री सिंह
मध्य-प्रदेश

भोपाल जैसा इंक्यूवेशन सेंटर अन्य स्मार्ट सिटी में भी बनायें : मंत्री सिंह

news

भोपाल, 30 जुलाई (हि.स.) । नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि भोपाल स्मार्ट सिटी में जैसा इंक्यूवेशन सेंटर बना है, उसी तरह अन्य स्मार्ट सिटी में भी बनायें। यह बात मंत्री सिंह ने गुरूवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भोपाल, इंदौर और ग्वालियर स्मार्ट सिटी के कार्यों की समीक्षा करते हुए कही। सिंह ने कहा कि स्मार्ट सिटी क्षेत्र में ग्रीनरी पर विशेष ध्यान दें। निर्धारित गाइड-लाइन के अनुसार 17 प्रतिशत से कम ग्रीन बेल्ट नहीं होना चाहिए। सिंह ने कहा कि कामर्शियल कॉम्पलेक्स अथवा दुकानें स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा नहीं बनायी जायें। स्मार्ट सिटी मूलभूत सुविधाओं के विकास के कार्य करें। बनायें स्वयं के वित्तीय संसाधन नगरीय विकास एवं आवास मंत्री सिंह ने कहा कि स्मार्ट सिटी स्वयं के वित्तीय संसाधन बनायें। उन्होंने कहा कि स्वयं के वित्तीय संसाधनों से ही स्मार्ट सिटी का विकास करें। बैठक में नगर निगम भोपाल कमिश्नर ने बताया कि भोपाल स्मार्ट सिटी क्षेत्र में लगभग 100 एकड़ जमीन बेचकर 1500 करोड़ रूपये की आय अर्जित की जायेगी। इस राशि से विभिन्न क्षेत्रों में 23 प्रोजेक्ट पूरे किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में 2000 शासकीय आवासों के निर्माण का कार्य चल रहा है। इनमें से 700 आवास लगभग पूर्णता की ओर हैं। मंत्री सिंह ने कहा कि आर्क ब्रिज और स्मार्ट सिटी रोड का कार्य जल्द पूरा किया जाए। कमिश्नर करेंगे ग्वालियर स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने कहा कि कमिश्नर नगरीय प्रशासन एवं विकास ग्वालियर जाकर स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि ग्वालियर स्मार्ट सिटी के कार्यों में तेजी लायें। सिंह ने कहा कि सभी प्रोजेक्ट समय-सीमा में पूरा करें। इंदौर स्मार्ट सिटी के कार्यों की सराहना सिंह ने इंदौर स्मार्ट सिटी में कराये गये कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इंदौर जैसा कार्य अन्य स्मार्ट सिटियों में भी होना चाहिए। बैठक में स्मार्ट सिटी भोपाल, इंदौर और ग्वालियर के सीईओ ने किये जा रहे कार्यों और आगामी प्रोजेक्ट की जानकारी दी। उन्होंने राजस्व जनरेट करने के उपायों के बारे में भी बताया। बैठक में प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन और विकास नीतेश व्यास, आयुक्त नगरीय प्रशासन और विकास निकुंज कुमार श्रीवास्तव, सीईओ स्मार्ट सिटी भोपाल आदित्य सिंह एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार / उमेद सिंह रावत-hindusthansamachar.in