60 महिलाओं ने 7 दिन में मास्क बेचकर कमाए 10 लाख रुपये

60 महिलाओं ने 7 दिन में मास्क बेचकर कमाए 10 लाख रुपये
60-women-earned-10-lakh-rupees-by-selling-masks-in-7-days

13/05/2021 गुना, 13 मई (हि.स.) । जिले के सरकारी दफ्तरों में काम करने वाले मैदानी अमले को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए स्व-सहायता समूहों की महिलाओ ने एक लाख मास्क तैयार किए। घर बैठे बनाए गए मास्कों को उन्होंने जनपद पंचायतों, बैंक, बिजली कंपनी और 425 ग्राम पंचायतों में काम करने वाले अमले को आजीविका मिशन के माध्यम से भेजे। इस तरह 60 महिलाओं ने घर बैठे एक लाख मास्क की बिक्री कर 10 लाख रुपये की आय प्राप्त की है। जिला पंचायत सीईओ निलेश परिख ने आजीविका मिशन के तहत ग्रामीणों और सरकारी विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों के लिए स्व-सहायता समूहों के माध्यम से मास्क तैयार कराए है। लहरकोटा गांव की सोना खान, बमोरी की अनीता ओझा और ऊमरी की सुनीता प्रजापति ने दिन रात सात दिन में अपनी महिला साथियों के साथ मिलकर एक लाख मास्क तैयार किए। उन्होंने एक मास्क 10 रुपये की कीमत में जनपद पंचायतों सहित अन्य विभागों को दिया। जिसकी वजह से उनके मास्क 10 लाख रुपये की कीमत में बिके। सबसे अहम बात तो यह है कि इन मास्क के वितरण से एक ओर उनकी खुद की आय हुई, तो वहीं जिला प्रशासन और ग्रामीणों को भी कोरोना संक्रमण के खतरे से बचाया। आपदा काल में जहां लोग हुए बेरोजगार, वहीं नारी शक्ति ने लिखी नई इबारत: कोरोना संक्रमण काल में जहां निजी क्षेत्रों में लोगों की नौकरी गई, तो वहीं अनीता ओझा, सुनीता प्रजापति और सोना खान ने घर बैठे घरेलू महिलाओं को रोजगार दिया। साथ ही सात दिन में अपनी आय बढ़ाकर परिवार का भरण पोषण भी किया। अनीता का कहना है कि वह अभी भी सरकारी विभागों के कर्मचारियों के लिए मास्क तैयार कर रही हैं। जिससे वह कोरोना संक्रमण के खतरे से बच सकें। जिला पंचायत प्रशासन का कहना है कि एक पखवाड़े के भीतर जिले के स्व-सहायता समूह दो लाख मास्क तैयार करेंगे, जिसको प्रत्येक विभाग में भेजा जाएगा। इससे स्व-सहायता समूहों को 20 लाख रुपये की आय तो होगी, साथ ही महिलाओं को घर बैठे रोजगार मिल सकेगा। स्व-सहायता समूहों की महिलाओं ने सात दिन के भीतर एक लाख मास्क तैयार किए है, जिनको जनपद पंचायतों, बैंक, बिजली कंपनी सहित अन्य विभागों को दिए गए है। एक मास्क की कीमत 10 रुपये है। ग्रामीणों को भी मास्क वितरित किए जा रहे है। इन मास्कों के विक्रय से स्व-सहायता समूहों को 10 लाख रुपये की आय हुई है। - निलेश पारीख जिला पंचायत सीईओ गुना हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक

अन्य खबरें

No stories found.