30 दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का शुभारंभ
30 दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का शुभारंभ
मध्य-प्रदेश

30 दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का शुभारंभ

news

ग्वालियर, 22 नवम्बर (हि.स.)। मध्य प्रदेश नाट्य विद्यालय के विस्तार कार्यक्रम के अंतर्गत श्रीरंग के सहयोग से 30 दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का रविवार को शुभारंभ हुआ। मध्य प्रदेश नाट्य विद्यालय मध्यप्रदेश शासन संस्कृति विभाग भोपाल द्वारा रंगमंच के प्रोत्साहन एवं संवर्धन के लिए विस्तार कार्यक्रम के अंतर्गत प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मध्य क्षेत्र संस्कार भारती के संगठन मत्री प्रमोद झा थे। अध्यक्षता मध्य प्रदेश नाट्य विद्यालय के निदेशक आलोक चटर्जी ने की। मुख्य अतिथि ने अपने भाव व्यक्त करते हुए कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति और कला बहुत संपन्न समृद्ध है। उन्होंने कहा कि पाश्चात्य कलाओं से दूर रहकर कलाकार को भारतीय संस्कृति को संवर्धित करने वाली अभिव्यक्ति पर ही केंद्रित होना चाहिए। आलोक चटर्जी ने कहा कि मध्य प्रदेश संस्कृति विभाग का उद्देश्य है कि यहां की लोक कलाओं को प्रोत्साहित किया जाए। इस अवसर पर दिनेश चंद्र दुबे, कार्यशाला के नाट्य निर्देशक विवेक नामदेव, होजाई गंबा सिंह, पंडित उमेश कंपूवाले, डॉ रंजना टोनपे, श्रीराम उमड़ेकर, डॉ. हिमांशु द्विवेदी, विकास विपट, प्रदीप दीक्षित सहित नगर के वरिष्ठ कलाकार उपस्थित रहे। संचालन कार्यशाला के निदेशक व समन्वयक अशोक आनंद ने किया। हिन्दुस्थान समाचार/शरद-hindusthansamachar.in