150 ग्रामीणों से 500 रुपये प्रति पट्टा के हिसाब से ठगों ने वसूली राशि
150 ग्रामीणों से 500 रुपये प्रति पट्टा के हिसाब से ठगों ने वसूली राशि
मध्य-प्रदेश

150 ग्रामीणों से 500 रुपये प्रति पट्टा के हिसाब से ठगों ने वसूली राशि

news

गुना 19 सितंबर (हि.स.)। जिले के आरोन थाना क्षेत्र के ग्राम बरखेड़ाहाट में फर्जी पट्टा वितरण का मामला सामने आया है। इस मामले में शिकायत प्राप्त होने पर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है। जानकारी के मुताबिक आरोन जनपद की ग्राम पंचायत बरखेड़ा हाट में 8 सितंबर को एक महिला एवं दो लड़के लैपटॉप लेकर ठगी करने के उद्देश्य से आए। यहां गजेंद्र पुत्र उधम सिंह कुशवाह ने ग्राम के भोले भाले लोगों से कहा कि गुना से सरकारी कर्मचारी आए हैं। यह ऑनलाइन फार्म भर कर जमीन का पट्टा दिला रहे हैं। एक जमीन के पट्टे की फीस 500 रुपए है। ठगी का शिकार ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने गजेंद्र के कहने पर 500-500 रुपए पट्टे करने के लिए उक्त आरोपी शबीना खान, पंकज जैन, संजय कुमार मेर को 500 रुपए प्रति पट्टे के हिसाब से लगभग 100 से 150 लोगों ने रुपए दे दिए। इसके बाद इन ठगों ने बरखेड़ा हाट के आसपास अमीरगढ़, रसूलपुर, लोहपाल, सरको आदि गांव के लोगों को भी ठगी का शिकार बनाया। इसी दौरान गांव के सरपंच को जानकारी लगी कि कुछ लोग पट्टे ऑनलाइन का कार्य बरखेड़ा हाट में कर रहे हैं। इसकी जानकारी लेने के लिए ग्राम के रोजगार सहायक जितेंद्र धाकड़ को भेजा। उसने जब इन लोगों से पूछा कि आप कहां से आए हैं, कौन हैं, क्या आदेश है आपके पास। यह सुनते ही आरोपी ठग झगड़ने लगे और गाली गलौच करने लगे। इस तरह के व्यवहार से शंका होने पर सरपंच को जानकारी दी गई तथा ठगों को पकडक़र सरपंच के पास ले जाया गया। इस दौरान ठग किसी भी सवाल का सही जवाब नहीं दे पाए। कहने लगे कि हम से गलती हो गई अब हम ऐसा नहीं करेंगे। हाथ जोड़कर पैर पढ़ने लगे। ठगों के साथ एक महिला होने के कारण रात्रि में इन्हें छोड़ दिया गया लेकिन उनका नाम नंबर व पता ले लिया गया। जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपी ठगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों पर पुलिस ने धारा 420 सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक/केशव-hindusthansamachar.in