स्वच्छता सर्वेक्षण में नंबर बढ़ाने के लिए फिर से अतिक्रमण हटाने की मुहिम शुरू
स्वच्छता सर्वेक्षण में नंबर बढ़ाने के लिए फिर से अतिक्रमण हटाने की मुहिम शुरू
मध्य-प्रदेश

स्वच्छता सर्वेक्षण में नंबर बढ़ाने के लिए फिर से अतिक्रमण हटाने की मुहिम शुरू

news

गुना, 19 दिसम्बर (हि.स.)। स्वच्छता सर्वेक्षण में अपने नंबर बढ़ाने के लिए एक बार फिर से प्रशासन ने शहर को सुंदर व अतिक्रमण मुक्त बनाने की मुहिम शुरू कर दी है। जिसका शुभारंभ रविवार को शहर के शास्त्री पार्क से हुआ है। जहां बिना पूर्व सूचना दिए ही फल विक्रेताओं को हटने का आदेश दे दिया। जिसके बाद बुरे मन से सभी विक्रेता सामान समेटने में लग गए। फल विक्रेताओं की नाराजगी इस बात को लेकर थी कि उन्हें हर साल प्रशासन हटाने के काम में तो लग जाता है लेकिन उन्हें उचित स्थान उपलब्ध नहीं करवाता। मौके पर एसडीएम व नपा सीएमओ सहित अतिक्रमण विरोधी दस्ते ने शास्त्री पार्क के चारों तरफ खड़े फल विक्रेताओं को हटवाया। जिसके बाद फायर बिग्रेड को बुलाकर उक्त स्थल की सफाई करवाई। जानकारी के मुताबिक अतिक्रमण शहर की सबसे गंभीर समस्या बन चुकी है। जिससे शहरवासियों को अब तक मुक्ति नहीं मिल सकी है। प्रशासन हर साल अतिक्रमण विरोधी मुहिम चलाता है लेकिन मॉनीटरिंग के अभाव में समस्या जस की तस बनी हुई है। जिसका एक उदाहरण शास्त्री पार्क व सब्जी मंडी है। इन दोनों ही जगहों पर प्रशासन द्वारा दो सालों से व्यवस्था सुधारने का काम किया जा रहा है। लेकिन आज तक व्यवस्था में परिवर्तन नहीं आ सका है। इसी को सुधारने के लिए एक बार फिर से एसडीएम अंकिता जैन व नगर पालिका सीएमओ तेज सिंह यादव अतिक्रमण विरोधी दस्ते को लेकर शास्त्री पार्क पहुंच गए। यहां प्रशासन की टीम को अचानक देख फल विक्रेता चौक गए। गाड़ी से उतरते ही अधिकारियों ने फल विक्रेताओं से कहा उन्हें इस वक्त यहां अपनी दुकान समेटनी होगी, क्योंकि अब वे यहां दुकान नहीं लगा सकेंगे। वह जाना चाहें तो सब्जी मंडी में जाकर फल बेच सकते हैं। या फिर वह अब हाथ ठेले पर घूमते ही फल बेचें। यह आदेश सुनते ही फल विक्रेता सामान समेटने में लग गए। कई फल विक्रेताओं ने बताया कि वह पिछले 10 से 20 सालों से यहां फल बेचते आ रहे हैं। हर साल प्रशासन के कोई न कोई अधिकारी आते हैं और उन्हें यहां से हटने का हुक्म सुना देते हैं, लेकिन कोई वैकल्पिक जगह उपलब्ध हीं कराते। इसलिए व्यवस्था वही पुराने ढर्रे पर आ जाती है। इस समय पर अधिकारी उन्हें सब्जी मंडी में जाने के लिए कह रहे हैं लेकिन वहां इतनी जगह ही नहीं है कि सभी फल विक्रेता वहां अपनी दुकान लगा सकें। गौर करने वाली बात है कि सब्जी मंडी प्रांगण में सभी सब्जी विक्रेता जमीन पर बैठकर सब्जी बेच रहे हैं और टीन शेड खाली पड़े हैं। इस व्यवस्था को आज तक प्रशासन दुरुस्त नहीं करा सका है। - अतिक्रमण हटते ही दिखने लगी बैंच शहर के अन्य पार्कों की तुलना में शास्त्री पार्क काफी सुंदर व आकर्षक है। लेकिन चारों ओर से अतिक्रमण से घिरे होने की वजह से इसका सही लाभ जरुरतमंदों को नहीं मिल पा रहा है। पार्क की जाली के बाहर चारों तरफ बैठने के लिए नपा ने बैंच लगवाई थी। जो फल विक्रेताओं के अतिक्रमण की वजह से छुप गई थीं। अतिक्रमण हटते ही यह बैंच साफ नजर आने लगी है। सर्दी के मौसम में अब लोग यहां बैठकर धूप सेकने लगे हैं। वहीं पार्क के अंदर की सुंदरता भी बाहर से नजर आने लगी है। - यह बोले जिम्मेदार शहर को सुंदर व अतिक्रमण मुक्त बनाने हमने प्रयास शुरू कर दिए हैं। इसी क्रम में आज शास्त्री पार्क से अतिक्रमण हटवाया है। फिलहाल इन फल विक्रेताओं को सब्जी मंडी में शिफ्ट करने जगह खाली करवाई जा रही है। आगे भी इसी तरह की कार्रवाई जारी रहेगी। तेज सिंह यादव, सीएमओ हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक-hindusthansamachar.in