स्ट्रेचर पर पडे़-पड़े कंकाल बन गया शव, आयोग ने मांगी रिपोर्ट
स्ट्रेचर पर पडे़-पड़े कंकाल बन गया शव, आयोग ने मांगी रिपोर्ट
मध्य-प्रदेश

स्ट्रेचर पर पडे़-पड़े कंकाल बन गया शव, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

news

भोपाल, 16 सितम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने इन्दौर शहर के शासकीय महाराजा यशवंत राव चिकित्सालय (एमवायएच) में एक शव के स्ट्रेचर पर पड़े-पड़े कंकाल बन जाने के मामले पर संज्ञान लिया है। इस मामले में आयोग ने कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक तथा अधीक्षक, एम.वाय. अस्पताल, इन्दौर से चार सप्ताह में प्रतिवेदन मांगा है। मानव अधिकार आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते मंगलवार को एमवाय अस्पताल प्रबंधन का अमानवीय चेहरा सामने आया। अस्पताल के मर्चुरी रूम में एक अज्ञात व्यक्ति का शव नौ दिन तक स्ट्रेचर पर ही पड़ा रहा। किसी ने भी उसे सुरक्षित रखने की जहमत नहीं उठाई। मंगलवार को बदबू आने पर देखा गया, तो स्ट्रेचर पर पड़े-पड़े ही शव कंकाल में तब्दील हो गया था। मामला सामने आने के बाद हडकम्प मचा, तो जिम्मेदारों ने तत्काल शव को वहां से हटवाया। वहीं कुछ अस्पताल सूत्रों का कहना है कि शव 15-20 दिनों से यहां रखा हुआ है। एमवायएच अस्पताल में यह लावारिस शव 9 से 10 दिन पहले अस्पताल की मर्चुरी में लाया गया था। शव पहले से ही खराब स्थिति में था, जिसे अज्ञात व्यक्ति का मानते हुये एक तरफ ढंककर रख दिया गया था। इसके बाद से शव की कोई शिनाख्त नहीं हो पाई थी। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे-hindusthansamachar.in