सेवा केंद्र पर मनेगा रक्षाबंधन पर्व
सेवा केंद्र पर मनेगा रक्षाबंधन पर्व
मध्य-प्रदेश

सेवा केंद्र पर मनेगा रक्षाबंधन पर्व

news

रतलाम, 01 अगस्त (हि.स.)। नकारात्मक विचारों और विकारों से मन की सुरक्षा रक्षाबंधन के पर्व पर 3 अगस्त को डोंगरे नगर स्थित सेवा केंद्र पर रक्षाबंधन पर्व मनाया जाएगा, जिसका विषय रहेगा नकारात्मक विचारों और विकारो से मन की सुरक्षा करना है। रक्षाबंधन का त्यौहार न जाने कितने दूर वालो की नजदीक और नजदीक वालों को और भी नजदीक लाकर एक मीठी गुदगुदी विश्वास और अपने पन की भावना जगाकर नवीनता भर जाता है। किसी व्यक्ति विशेष से संबंधित न होने के कारण इसके पीछे एक विशाल भावना छिपी हुई हैं। वह है भाई बहन के सत्य, अविनाशी पावन त्याग भरे रिश्ते की भावना। मुख्य रूप से इस त्यौहार के पीछे यही राज बताते हैं कि इस दिन भाई बहन को रक्षा का वचन देता है और बहन भाई को राखी बांधती है कि भाई तो ना केवल शारीरिक दृष्टिकोण से बल्कि आर्थिक दृष्टिकोण से भी बहन की रक्षा करने में असमर्थ हो सकता हैं। कई परिस्थितियों में भाई दूर रहता हैं। फिर यह बात आती है कि क्या रक्षा की जरूरत केवल बहन को ही भाई को नहीं होती? इतिहास तो ऐसे नारियों की गाथा से गौरवान्वित है जिनसे पुरुषों ने भी रक्षा की कामना की। जैसे झांसी की रानी लक्ष्मी बाई और रानी दुर्गावती फिर रक्षा का उत्तरदायित्व बचपन मे पिता पर ,जवानी में पति पर, बढ़ापे में पुत्र पर माना जाता है,तो रक्षा की जिम्मेवारी केवल भाई पर ही क्यों रखी गई? हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in