सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नहीं है पुलिस चौकी
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नहीं है पुलिस चौकी
मध्य-प्रदेश

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नहीं है पुलिस चौकी

news

छतरपुर, 20 दिसम्बर (हि.स.)। जिले के नौगांव नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पुलिस चौकी न होने के कारण लोगों को विभिन्न परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यहां नगर सहित दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्र से मरीज इलाज कराने आते हैं लेकिन सुरक्षा के इंतजाम न होने के कारण कई बार मरीजों के परिजन यहां पदस्थ कर्मचारियों और स्टाफ के साथ अभद्रता करने से पीछे नहीं हटते। इसके अलावा घायल मरीजों की एमएलसी भी नहीं हो पा रही। इस समस्या को लेकर पूर्व में अस्पताल के स्टाफ ने काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन कर पुलिस चौकी के साथ यहां पुलिस के जवान को तैनात किए जाने की मांग की थी। जानकारी के अनुसार अस्पताल में प्रतिदिन 8 से 10 एमएलसी के केस आते हैं जिसकी सूचना थाने में दी जाती है। एमएलसी पर कार्यवाही हेतु पुलिस और प्रशासन की आवश्यकता होती लेकिन तमाम कारणों के चलते पुलिस देर से यहां पहुंचती है जिस कारण मरीज को रिफर करने की कार्यवाही नहीं हो पाती। अस्पताल में क्षेत्र के छाती पहाड़ी, देवपुर, हरपालपुर, बेलाताल, ईसानगर सहित अन्य मार्गों पर होने वाली दुर्घटनाओं के केस आते हैं जिनमें एमएलसी की समस्या सामने आती है। सिविल अस्पताल में पुलिस चौकी के लिए बीएमओ डॉ. रविन्द्र पटेल ने क्षेत्रिय विधायक से मांग की है। इनका कहना यह मामला मेरे संज्ञान में है, जिला योजना समिति की बैठक में प्रस्ताव रखा जाएगा और जल्द ही अस्पताल में चौकी की व्यवस्था की जाएगी। नीरज दीक्षित, विधायक, महाराजपुर हिन्दुस्थान समाचार / पवन अवस्थी-hindusthansamachar.in