सब्जी, फल, किराना व्यापारियों को प्लास्टिक थैली का उपयोग नहीं करने की समझाइश
सब्जी, फल, किराना व्यापारियों को प्लास्टिक थैली का उपयोग नहीं करने की समझाइश
मध्य-प्रदेश

सब्जी, फल, किराना व्यापारियों को प्लास्टिक थैली का उपयोग नहीं करने की समझाइश

news

रतलाम, 29 सितम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पॉलीथिन मुक्त स्वच्छ भारत का नारा दिया था, लेकिन लोगो में अभी भी इसके उपयोग का अभाव है। प्रतिबंध के होने के बावजूद भी इसका उपयोग किया जा रहा है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए सृष्टि समाज सेवा समिति एवं गठित तेजस्वी दल के युवक, युवतियों ने पॉलीथिन मुक्ति अभियान चलाया। मुख्य रूप से तेजस्वी दल की युवतियों ने तीन दिन में छोटे-बडे 1100 बैग स्वयं बनाकर बाजना बस स्टैंड पर सब्जी, फल, किराना, मेडिकल, नमकीन व्यापारियों को प्रयोगिक रूप से नि:शुल्क वितरित कर व्यापारियों को समझाइश भी दी गई कि ग्राहकों को भी प्रोत्साहित करें कि घर से कपड़े की थैली एवं बैग लेकर आए । समिति सचिव सुनील मालवीय, उपाध्यक्ष दिव्या श्रीवास्तव ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि पॉलीथिन का उपयोग कर खाने वस्तुओं ,सब्जियों का कचरा इत्यादी हमारे द्वारा थैली में भरकर सार्वजनिक स्थानों पर फेंकने से पशु पक्षी पन्नी सहित सेवन कर लेते है जिससे उनकी मृत्यु तक हो जाती है। इसके साथ ही यह आसानी से नष्ट नही होने से बारिश के समय नदी नालों में जमा होने से बाढ़, आपदाओं की संभावना भी बढ़ जाती है। पेपर बैग बायोडिग्रेडेबल होते हैं जो कि उपयोग करने के बाद आसानी से नष्ट हो जाते हैं एवं इससे किसी प्रकार का प्रदूषण नही होकर स्वच्छता बनी रहती हैं। व्यापारियों ने भी इस कार्य की सराहना करते हुए अमल में लाने की बात कही एवं मौके पर मौजूद ग्राहकों को बांटे गए पेपर बैग में ही सामान भी दिया। समिति द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए जागरूकता अभियान चलाए जाते हैं एवं आगे भी इसी प्रकार से समय-समय पर चलाए जाएंगे । हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in