शेयर बाजार में निवेश कराने के नाम पर करोड़ों की ठगी
शेयर बाजार में निवेश कराने के नाम पर करोड़ों की ठगी
मध्य-प्रदेश

शेयर बाजार में निवेश कराने के नाम पर करोड़ों की ठगी

news

गुना, 12 सितम्बर (हि.स.)। शहर में एक कथित फर्जी निवेश कंपनी के संचालक द्वारा करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। जिसमें सैकड़ों लोगों से लाखों रुपये की नकद राशि लेकर पैसे वापस नहीं किए। ग्राहकों को यह मामला धोखाधड़ी का तब प्रतीत हुआ जब कंपनी का संचालक पहले तो उपभोक्ताओं को राशि लौटाने के लिए आज कल में देने के बहाने बनाने लगा। मामले में शहर के लोगों ने शनिवार को लिखित आवेदन देकर कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस का कहना है कि हम ठगी का शिकार हुए लोगों से आवश्यक दस्तावेज व अन्य सबूत लेकर मामले की पड़ताल कर रहे हैं। धोखाधड़ी का शिकार हुए ग्राहकों ने पुलिस को बताया है कि शहर के सौम्या मॉल में अनिल धाकड़ नामक व्यक्ति ने इंडियन निवेश कंपनी नाम से ऑफिस खोला है। जिसे वह लॉक डाउन के पहले से चला रहा है। उसने शहर सहित जिले भर के सैकड़ों लोगों के करोड़ों रुपये यह कहकर निवेश करवाए कि उन्हें जमा रकम की दोगुनी राशि मिलेगी। यही नहीं कथित ठग ने शुरूआत में कुछ लोगों से 50 हजार रुपये जमा कराए और उन्हें बदले में 55 हजार रुपये लौटाए भी, लेकिन जैसे-जैसे ग्राहकों की संख्या बढ़ती चली गई तो उसने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। इस ठगी का शिकार हुए लोगों में कई ग्राहक ऐसे भी हैं जिन्होंने पहले 30 हजार रुपये लगाए और फिर यह राशि 4 लाख तक पहुंच गई। ठगी का शिकार हुए लोगों का कहना है कि अभी कोतवाली में शिकायत करने आए लोगों की संख्या भले ही 10-12 है, लेकिन कंपनी में निवेश करने वालों की संख्या सैकड़ों में है। पत्नी की शिकायत से ही पकड़ा गया ठग ठगी का शिकार हुए ग्राहक भूपेंद्र साहू ने बताया कि बीते तीन दिनों से ऑफिस न खुलने पर वह सभी लोग एकत्रित होकर अनिल धाकड़ के भार्गव कालोनी निवासी घर पर गए। जहां अनिल ने कहा कि मैं तुम्हें पैसे यूपी ढाबा पर दूंगा, वहां मेरा आदमी खड़ा है। ग्राहकों को कुछ शंका हुई तो वे चुपके से मकान मालिक से कह गए कि यदि हम ढाबा पहुंचने पर बताए कि कुछ गड़बड़ है तो तुम पुलिस को सूचना कर देना। इसी बात पर मकान मालिक ने पुलिस को सूचना कर दी। यह जानकारी आरोपित की पत्नी को लगी तो उसने पुलिस को शिकायत करते हुए बताया कि कुछ लोग उसके पति का अपहरण कर यूपी ढाबा पर ले गए हैं। पुलिस ने जब मकान मालिक से नंबर लेकर ग्राहकों से बात की तो मामला कुछ और ही निकला। ग्राहकों ने बताया कि उन्हें यहां अनिल धाकड़ पैसे देने की बात कहकर लाया है। जिस पर पुलिस ने अनिल से बात कर कहा कि यदि तुम वापस कोतवाली इन्हें लेकर नहीं आए तो तुम पर मामला दर्ज हो जाएगा। जिसके बाद आरोपी कोतवाली आ गया। अब इस मामले में पुलिस ग्राहकों की लिखित शिकायत और दस्तावेजों के आधार पर मामले की जांच कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक-hindusthansamachar.in