वित्त मंत्री ने की कोष एवं लेखा की समीक्षा, भुगतान प्रणाली में पारदर्शिता बरतने के निर्देश
वित्त मंत्री ने की कोष एवं लेखा की समीक्षा, भुगतान प्रणाली में पारदर्शिता बरतने के निर्देश
मध्य-प्रदेश

वित्त मंत्री ने की कोष एवं लेखा की समीक्षा, भुगतान प्रणाली में पारदर्शिता बरतने के निर्देश

news

भोपाल, 05 नवम्बर (हि.स.)। प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने गुरुवार को कोष एवं लेखा के अन्तर्गत विकसित समेकित वित्तीय प्रबंधन सूचना प्रणाली (आईएफएमआईएस) सॉफ्टवेयर की समीक्षा की। इस अवसर पर उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के हित में सेवाओं और वित्तीय प्रबंधन के उत्कृष्ट कार्य सॉफ्टवेयर के माध्यम से सुनिश्चित किये जाएं। उन्होंने वित्त अधिकारियों को निर्देश दिये की प्रदेश की वित्तीय भुगतान प्रणाली में पूरी पारदर्शिता बरती जाए, सॉफ्टवेयर का उपयोग करने वाले शासकीय विभागों की तकनीकी समस्याओं का त्वरित निराकरण भी करें। समीक्षा बैठक में कोष एवं लेखा आयुक्त मुकेश गुप्ता द्वारा कम्प्यूटीकरण योजना एवं उसके परिदृश्य की अद्यतन स्थिति की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी शासकीय अधिकारी/कर्मचारियों के समस्त दावों का भुगतान ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से किया जा रहा है। साथ ही सभी सेवानिवृत्त शासकीय सेवकों के पेंशन प्रकरण भी ऑनलाइन प्रक्रिया से ही निराकृत हो रहे हैं, जिससे सभी कोषालयों में समय और पारदर्शिता से कार्य सम्पन्न हो रहा है। इस अवसर पर वित्त विभाग के प्रमुख सचिव मनोज गोविल, सचिव अमित राठौर, गुलशन बामरा, बजट संचालक आईरीन सिंथिया, कोष एवं लेखा संचालक जेके शर्मा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश/मयंक-hindusthansamachar.in