राजेन्द्रग्राम और कोतमा के भेजे 7 ट्रक खराब गेहूं के वितरण पर कलेक्टर ने लगाई रोक
राजेन्द्रग्राम और कोतमा के भेजे 7 ट्रक खराब गेहूं के वितरण पर कलेक्टर ने लगाई रोक
मध्य-प्रदेश

राजेन्द्रग्राम और कोतमा के भेजे 7 ट्रक खराब गेहूं के वितरण पर कलेक्टर ने लगाई रोक

news

पूर्व में कलेक्टर की जांच रिपोर्ट पर संभागायुक्त ने वितरण पर लगाई थी रोक अनूपपुर, 12 सितम्बर (हि.स.)। सजहा वेयरहाउस में वर्ष 2019-20 के लिए भंडारित 17555 क्विंटल गेहूं में 16305 क्विंटल गेहूं के खराब और एसडीएम द्वार खाने योग्य नहीं होने की सौंपी गई जांच रिपोर्ट के माहभर बाद वितरण के लिए निकाले गए 7 ट्रक गेहूं की खेप पर पुन: कलेक्टर ने वितरण पर रोक लगा दी है। इसमें 5 ट्रक गेहूं सजहा से राजेन्द्रग्राम वेयरहाउस तथा 2 ट्रक गेहूं सजहा से कोतमा वेयरहाउस के लिए भेजा गया था। राजेन्द्रग्राम पहुंचे 5 ट्रक गेहूं के खेप का भंडारण वेयरहाउस में कर दिया गया था, जिसे शासकीय दुकानों पर पहुंचाने की तैयारी थी, जबकि कोतमा के लिए वाहनों को भेजा जाना शेष था। लेकिन राजेन्द्रग्राम भेजे गए गेहूं पर 5 सितम्बर को सप्लाई पर संभागायुक्त ने लगाई थी रोक, अधिकारियों ने भेज दिया खराब गेहूं को प्रशासनिक अधिकारियों की टीम ने तीन बार जांच के बाद खराब बताया, अब उसे ही नागरिक आपूर्ति और जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारियों ने खाने योग्य बताते हुए उसका उठाव कराकर राशन की दुकानों पर भेज दिया है। संभागायुक्त ने मामले में जानकारी लेकर कार्रवाई के प्रति आश्वस्त किया, वहीं कलेक्टर ने तत्काल ही ऐसे उठाए गए गेहूं की खेप को रोकते हुए वितरण पर रोक लगाने तथा पुन: वापस सजहा वेयरहाउस भेजने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर के निर्देश में दो ट्रक गेहूं कोतमा के लिए नहीं भेजा जा सका, अनूपपुर में ही रोक दिया गया। विदित हो कि 4 सितम्बर को नागरिक आपूर्ति प्रबंधक ने सजहा वेयरहाउस से 13867 बोरी गेहूं को खाने योग्य बताते हुए उसके वितरण के आदेश जारी किए थे। जिसमें 3250 बोरी की खेप को पांच ट्रकों में लोड कर राजेन्द्रग्राम वेयरहाउस भेज दिया। यहां भेजे गए ट्रक 3 सितम्बर को राजेन्द्रग्राम वेयरहाउस के लिए भेजे गए, जबकि वितरण योग्य गेहूं बताने का आदेश 4 सितम्बर को जारी किया गया। इस प्रकार फिर से सजहा वेयरहाउस में खराब भंडारित गेहूं को खपाने का खेल आरम्भ कर दिया गया था। जबकि पूर्व में अनूपपुर एसडीएम द्वारा की गई जांच और कलेक्टर को भेजी गई रिपोर्ट में गोदाम 15 बी के 12 स्टैक के 10 स्टैक में पुराना गेहूं भंडारण होने तथा सभी के पूर्ण रूप से खराब होने की रिपोर्ट संभागायुक्त को भेजी थी। लेकिन अब नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा उसी 15 बी गोदाम के स्टैक क्रमांक 2, 7, 8, 10, 11, 3 से 13867 बोरी गेहूं को वितरण योग्य बताते हुए उसके वितरण के आदेश दिए हैं। नागरिक आपूर्ति द्वारा राजेन्द्रग्राम भेजे गए खेप में एमपी 19 एचए 4057 में 650 बोरी, एमपी 18 एच 6688 में 800 बोरी, एमपी 18 जीए 3511 में 600 बोरी, एमपी 18 एचए 2675 में 600 बोरी तथा एमपी 18 जीए 0645 में 600 बोरी गेहूं लोड ट्रक शामिल है। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला-hindusthansamachar.in