रविवार को बाजार का नजारा लाकडाउन जैसा दिखा
रविवार को बाजार का नजारा लाकडाउन जैसा दिखा
मध्य-प्रदेश

रविवार को बाजार का नजारा लाकडाउन जैसा दिखा

news

गुना, 22 नवम्बर (हि.स.)। रविवार को शहर सहित अंचल का बाजार पूर्णत: बंद रहा। इस दौरान सिर्फ दूध डेयरी, मेडिकल, आटा चक्की तथा पेट्रोल पंप खुले रहे। वहीं बसों के आवागमन पर भी छूट थी लेकिन बिना जरूरी काम के बाहर निकलने पर प्रतिबंध के कारण यात्रियों का टोटा रहा। सबसे ज्यादा असर ऑटो चालकों पर देखने को मिला। क्योंकि उन्हें रविवार की छुट्टी के दिन बाजार खुले रहने की स्थिति में अच्छी खासी सवारियां मिल जाती थी। उल्लेखनीय है कि अगस्त माह के बाद एक बार फिर से एक दिन बाजार बंद करने की स्थिति बनी है। जिसे लेकर आमजन व दुकानदारों में चर्चा शुरू हो गई है। कोई इस फैसले को कोरोना संक्रमण कंट्रोल करने ठीक बता रहा है तो कुछ लोग इसे निर्थक बता रहे हैं। कुल मिलाकर रविवार को बाजार बंद पूर्णत: सफल रहा। जानकारी के मुताबिक नवम्बर माह में कोरोना का बढ़ता ग्राफ देख सरकार ने इसे बेहद गंभीरता से लिया है। इसकी एक बजह स्वास्थ्य मंत्रालय का फीडबैक भी है, जिसमें आगामी दिनों में बढ़ती सर्दी के बीच कोरोना को गंभीर बताया गया है। इसके पीछे तर्क है कि सर्दी के मौसम में नाक, गले व श्वसन नली में इंफेक्शन ज्यादा होता है। ऐसे में कोरोना संक्रमण और ज्यादा घातक हो जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए संक्रमण को नियंत्रित करने जिला प्रशासन से शनिवार को ही जिला संकट समूह की बैठक में रविवार को बाजार बंद करने का फैसला ले लिया था। इसी क्रम में अगले दिन संपूर्ण जिले में बाजार बंद रहा। आदेश का पालन कराने के लिए चौराहा, तिराहा सहित अलग प्वाइंटों पर पुलिस तैनात रही। जिसकी पैनी नजर मास्क न लगाने वाले व बिना जरूरी काम से बाहर निकलने वालों पर रही। - सडक़ पर थूका तो साथी से साफ करवाया प्रशासन के आदेश पर शहर में बाजार तो बंद रहा, लेकिन बिना जरूरी काम से निकलने वालों को रोकने के लिए जगह-जगह तिराहा व चौराहा पर पुलिस तैनात थी। शहर के कैंट चौराहा पर पुलिस ने बाइक सवारों को मास्क न लगाने के कारण रोककर चालान भरने को कहा। इसी दौरान एक युवक ने सडक़ पर थूक दिया। जिसे वहां खड़े टीआई ने देख लिया। उन्होंने सबसे पहले उस युवक की जमकर क्लास ली, बाद में उसके साथी से सडक़ पर पड़ा थूक साफ कराया। यह नजारा आसपास खड़े अन्य लोगों ने भी देखा। जिन्होंने ग्रामीण युवा की इस हरकत को गलत बताते हुए पुलिस कार्रवाई को सही ठहराया। - अंचल में भी पूर्णत: बंद रहा बाजार, सूनी रहीं सडक़ें बाजार बंद करने के आदेश का शहर सहित अंचल में भी पूर्ण पालन किया गया। किसी भी दुकानदार ने अपनी दुकान नहीं खोली। कुछ दुकानदार अपनी दुकान के बाहर धूप लेते नजर आए। वहीं बिना जरूरी के काम के घर से बाहर निकलने वालों की संख्या भी न के बराबर रही। जिसके कारण सडक़ें सूनी नजर आईं। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक-hindusthansamachar.in