मेडीकल कालेज में दवाइयां, आक्सीजन की कमी किसी भी स्थिति में नहीं होना चाहिए
मेडीकल कालेज में दवाइयां, आक्सीजन की कमी किसी भी स्थिति में नहीं होना चाहिए
मध्य-प्रदेश

मेडीकल कालेज में दवाइयां, आक्सीजन की कमी किसी भी स्थिति में नहीं होना चाहिए

news

रतलाम, 17 सितम्बर (हि.स.)। जिला संकट प्रबंध समूह की बैठक में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या में हो रही निरंतर वृद्धि पर चिंता व्यक्त की गई। बैठक में निर्णय लिये गये कि मरीज को समय पर उपचार मिले, मेडीकल कालेज की प्रतिष्ठा को कायम रखा जाए, भर्ती मरीज के परिजनों परेशानी न हो, उन्हें मरीज के बारे में तत्काल सही जानकारी प्राप्त हो, मरीजों के उपचार के लिए पर्याप्त मात्रा में दवाइयां उपलब्ध हो, एडवांस में दवाइयों का स्टाक रखा जाए, आक्सीजन की कमी न होने दी जाए तथा परिसर में आईटी शाखा को स्थापित कर अनुभवि व्यक्तियों को तैनात किया जाए, साथ ही कंट्रोलरूम की स्थापना भी की जाए, जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं है वहां सीसीटीवी कैमरे तत्काल लगाए जाए। कलेक्ट्रेट में गुरुवार को हुई समिति की बैठक में सांसद गुमानसिंह डामोर, विधायक चेतन काश्यप, डा. राजेन्द्र पाण्डेय, दिलीप मकवाना, पूर्व विधायिका संगीता चारेल, कलेक्टर गोपालचंद डाड, मेडीकल कालेज के डीन डा. संजय दीक्षित सहित अधिकारी उपस्थित थे। मरीज को समान रुप से देखा जाए सांसद डामोर ने कहा कि मरीज के बारे में उसके परिजन को सच्चाई के साथ पूरी जानकारी दी जाए। मरीज गरीब हो या अमीर सबके लिए एक जैसे प्रबंध किए जाए। मेडीकल कालेज तथा प्रशासन में समन्वय हो ताकि उचित उपचार समय सीमा में मिल सके। कश्यप ने भी समन्वय के रिक्तता को दूर करने पर जोर दिया। तहसील स्तर पर भी आक्सीजन की व्यवस्था हो जनप्रतिनिधियों ने आक्सीजन की कमी न हो इस बात पर मेडीकल कालेज प्रबंध पर ध्यान देने के निर्देश दिए, ताकि जरूरतमंद मरीज को तत्काल आक्सीजन मिल सके। डा. पाण्डेय ने मेडीकल कालेज के अलावा तहसील स्तर पर भी आक्सीजन उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा ताकि ग्रामीण क्षेत्र के मरीज को यदि रतलाम लाना है तो वाहन में आक्सीजन उपलब्ध हो सके। नवीन कन्या परिसर में 425 बेड की व्यवस्था की जा रही है कलेक्टर ने कहा कि पर्याप्त बेड उपलब्ध करवाने की कार्ययोजना बनाई गई है। मेडीकल कालेज के अलावा रतलाम के नवीन कन्या परिसर में स्थापित कोविड केयर सेंटर पर 425 बेड की व्यवस्था की जा रही है। जावरा,आलोट, बाजना में भी 50-50 बेड उपलब्ध करवाए जा रहे है। डा. पाण्डेय ने जावरा कोविड सेंटर में बेड की संख्या बढ़ाने की बात कही तथा कहा कि आलोट,ताल,पिपलौदा के मरीज भी जावरा पर निर्भर है। विधायक काश्यप ने आईसीयू की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए, फिलहाल 20 आईसीयू है जो सभी उपयोग में आ रहे है। डा. पाण्डेय ने मेडीकल कालेज के भर्ती मरीजों के उपचार में कतई लापरवाही न हो इस बात का ध्यान रखा जाए। पिकनीक स्पाट पर भीड़ को नियंत्रित किया जाएगा कलेक्टर ने बैठक में कहा कि जिले में मरीजों की संख्या दुगनी हो रही है जो चिंताजनक है। आमजन मास्क का उपयोग अनिवार्य रुप से नहीं कर रहे है, स्पाट फाईन में तेजी लाई जाएगी। जो दुकानदार मास्क नहीं पहनते है उन पर पेनल्टी के साथ ही दो दिन के लिए उनकी भी बंद कर दी जाएगी। इसके अलावा पिकनीक स्पाट पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कदम उटाए जा रहे है। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in