मांगे पूरी नहीं होने तक बसें रहेंगी बंद, सौंपा 19 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन
मांगे पूरी नहीं होने तक बसें रहेंगी बंद, सौंपा 19 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन
मध्य-प्रदेश

मांगे पूरी नहीं होने तक बसें रहेंगी बंद, सौंपा 19 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन

news

सिवनी, 29 जून(हि.स.)। जिले के चालक, परिचालक संघ ने सोमवार को बस मालिकों से मिलकर अपनी मांगों को रखा तथा मांगे पूरी न होने पर बसें चालू नहीं करने की बात कही है। वही संघ द्वारा सोमवार को जिला कलेक्टर के नाम 19 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन तहसीलदार को दिया गया। संघ के मीडिया प्रभारी सुनील डहेरिया ने बताया कि कई दिनों से चालक परिचालक संघ यह मांग कर रहा है कि मध्य प्रदेश शासन 7500 रुपए महीने के हिसाब से 3 महीने का मानदेय दे क्योंकि कोरोनावायरस के चलते सभी चालक परिचालक घर में ही रहे है ऐसी स्थिति में उनकी आर्थिक स्थिति और खराब हो गई है इसी बात को लेकर सिवनी जिला कलेक्टर को तीन बार ज्ञापन दिया जा चुका है वहीं संघ के जिलाध्यक्ष दीनू डेहरिया के द्वारा भोपाल में मुख्यमंत्री कार्यालय एवं परिवहन मंत्रालय में भी इस बाबत ज्ञापन दिया जा चुका है परंतु हमारी मांगों को लेकर मध्य प्रदेश शासन के कानों में जूं तक नहीं रेंगी। ऐसी स्थिति में चालक परिचालकों ने तय किया है कि वे अपनी मांगे पूरी नहीं होने तक गाड़ी में नहीं जाएंगे। बताया गया कि इसी तारतम्य में चालक परिचालक सोमवार 29 जून को बस मालिकों ( बस संचालक एसोसिएशन) से भी मिला जिसमें जबलपुर संभाग के बस मालिक भी थे और उनसे अपनी बात कही बस मालिकों ने भी चालक परिचालकों की मांगों को जायज ठहराते हुए चालक परिचालकों से कहा कि अपनी मांगे पूरी नहीं होने तक आपको बस में नहीं भेजेंगे और अपनी गाड़ी भी नहीं चलाएंगे। संघ के जिला अध्यक्ष दीनू डहेरिया ने सभी बस मालिकों का आभार जताया और अपने चालकों परिचालकों से निवेदन किया है कि वह इतने दिनों से चटनी रोटी खा रहे थे थोड़े दिन और जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती हम गाड़ी नहीं चलाएंगे इस आंदोलन को पूरे मध्यप्रदेश से सहयोग प्राप्त हो रहा है प्रदेश स्तर के चालक परिचालक संचालकों ने भी अपनी मांगे पूरी नहीं होने तक गाड़ी नहीं चलाने का निर्णय लिया है। अभी यह आंदोलन प्रदेश व्यापी आंदोलन बन गया है जिसमें सभी चालक परिचालकों को सहयोग देना है जिसके तारतम्य में सोमवार को प्रदेश यूनियन के आव्हान पर जिला कलेक्टर को 19 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा जिसमे निम्न मांगे रखी गई। हिन्दुस्थान समाचार/रवि-hindusthansamachar.in