मध्य प्रदेश के 9 जिलों में भारी बारिश के आसार, यलो अलर्ट जारी
मध्य प्रदेश के 9 जिलों में भारी बारिश के आसार, यलो अलर्ट जारी
मध्य-प्रदेश

मध्य प्रदेश के 9 जिलों में भारी बारिश के आसार, यलो अलर्ट जारी

news

भोपाल, 12 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश में एक बार फिर झमाझम बारिश होने वाली है। तीन मानसूनी सिस्टम सक्रिय होने से प्रदेश में रविवार से बारिश का एक और दौर शुरू होने के आसार हैं। रविवार को बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है। इसके अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर विदर्भ तक बादलों ने एक श्रृंखला ट्रफ लाइन बना ली है। यही कारण है कि मध्य प्रदेश के कई इलाकों में बादलों की गरज के साथ हल्की फुल्की बारिश शुरू हो गई है। लेकिन आगे भारी बारिश हो सकती है। मौसम विज्ञान केंद्र ने यलो अलर्ट जारी किया है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से उठे बादल अरब सागर का पानी ला रहे हैं। वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात बना हुआ है। उसके रविवार को कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होने की संभावना है। पटना से छत्तीसगढ़ तक एक द्रोणिका (ट्रफ) बनी हुई है। मानसून द्रोणिका भी गंगानगर से टीकमगढ़, सीधी होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। इन तीन सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। इससे राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर बारिश की गतिविधियां हो रही हैं। रविवार को बंगाल की खाड़ी में मौजूद सिस्टम के आगे बढ़ने पर प्रदेश के दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र में बरसात का सिलसिला शुरू होने की संभावना है। 9 जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना 13 सितम्बर को बंगाल की खाड़ी से कम दबाव के क्षेत्र के आगे बढ़ने की संभावना है। इसके बाद प्रदेश के कई स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। विभाग ने प्रदेश के नौ जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना जताई है। इस दौरान भोपाल, इंदौर, उज्जैन, रतलाम, देवास, धार, मंदसौर, ग्वालियर, गुना समेत इस क्षेत्र के विभिन्न जिलों में व्यापक वर्षा होगी। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय/बच्चन-hindusthansamachar.in