मंडला: अब तक 1065 लोगो को हुआ कोरोना,  9 की मौंत, 32 इलाजरत
मंडला: अब तक 1065 लोगो को हुआ कोरोना, 9 की मौंत, 32 इलाजरत
मध्य-प्रदेश

मंडला: अब तक 1065 लोगो को हुआ कोरोना, 9 की मौंत, 32 इलाजरत

news

मण्डला, 22 नवंबर (हि.स)। जिले में अब तक 1065 लोगों को कोरोना संक्रमण ने अपनी चपेट में लिया है। जिसमें से 9 लोगों की मौंत हो चुकी हैं वहीं 32 इलाजरत हैं। दूसरी तरफ 1024 लोग कोरोना की जंग जीत कर घर वापस हो चुकें हैं। जिन्होंने जंग जीती है वे कोरोना के संक्रमण को भली-भाती जान चुकें हैं और वे सुरक्षा के पूरे इंतजाम लेकर साथ चल रहे हैं। एक बार फिर कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐहतियात के तौर पर जिला प्रशासन सक्रिय हो गया है और बैठक आदि में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। दूसरी तरफ जिले भर में नागरिकों को समझाइश के साथ बिना मास्क पहने लोगो पर जुर्माने की कार्यवाही की जा रही है। वहीं बढ़ती ठण्ड के साथ सर्दी जुखाम और बुखार के मरीजो की संख्या तेजी से बढें हैं। हांलाकि अभी भी लोग कोरोना संक्रमण को लेकर ज्यादा मुस्तैद नजर नही आ रहे है। मड़ई मेलों में जमकर भीड़ हैं तो दूसरी तरफ लोग बिना मास्क लगाए घूम रहे है जो जानलेवा साबित हो सकता हैं। वहीं वायरस से प्रभावित होने पर बुखार आना, सिर दर्द, नाक बहना, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, खांसी, गले में खरास, सीने में जकडऩ आदि लक्षण दिखाई देते हैं। संक्रमित व्यक्ति के खुली जगह में छींकने वा खांसने से हवा द्वारा इस वायरस का संक्रमण होता है। इसके अलावा संक्रमित व्यक्ति से हाथ मिलाने, गले लगने, संक्रमित जगह के संपर्क में आने से भी यह वायरस फैलता है। जिले में 4 कोरोना केस मिले मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार 21 नवम्बर की शाम 4 बजे से 22 नवम्बर की शाम 4 बजे तक 4 कोरोना पॉजीटिव केस मिले हैं। जानकारी के अनुसार नैनपुर के ग्राम सकवाह निवासी 16 वर्षीय बालिका एवं ग्राम समनापुर निवासी 25 वर्षीय महिला, बिछिया के ग्राम बोकर निवासी 40 वर्षीय महिला एवं ग्राम सानी उमरवाडा निवासी 22 वर्षीय महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। 2 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए कोरोना को हराकर मरीजों के स्वस्थ होने एवं घर पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है। इसी क्रम में 21 नवम्बर की शाम 4 बजे से 22 नवम्बर की शाम 4 बजे तक जिले में 2 कोरोना मरीज कोरोना को हराकर अपने घर लौटे हैं। इनमें बिछिया निवासी 30 वर्षीय पुरूष, ग्राम धनवार निवासी 48 वर्षीय महिला शामिल है। मॉस्क न लगाने पर चालान जिला प्रशासन द्वारा मॉस्क का उपयोग नहीं करने वालों पर चालानी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। इसी तारतम्य में जिले के मंडला अनुविभाग सहित तहसील स्तर पर भी राजस्व अधिकारियों द्वारा मॉस्क का उपयोग नहीं करने वाले व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही की गई है। कलेक्टर ने दिए निर्देश कलेक्टर ने आगामी दिनों में लगातार जनजागरूकता एवं चालानी कार्यवाही संबंधी कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगरीय निकायों को भी अनाउंसमेंट के माध्यम से कोरोना के संक्रमण एवं इससे बचाव की जानकारी प्रसारित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी एसडीएम को अपने क्षेत्र के मैदानी अमले की बैठकें लेकर सचिव, जीआरएस एवं कोटवार आदि से शासन से जारी दिशा-निर्देशों का पालन कराने के निर्देश दिए हैं। संकट प्रबंधन समिति की बैठक देश एवं प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, विधायक देवसिंह सैयाम, कलेक्टर हर्षिका सिंह, एसपी यशपाल सिंह राजपूत, जिला पंचायत सीईओ तन्वी हुड्डा, भीष्म द्विवेदी तथा जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे। वीसी में राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने कहा कि मड़ई-मेले के मद्देनजर कोरोना संक्रमण से बचने सभी जिलेवासी मॉस्क एवं सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन करें। 100 से अधिक व्यक्ति प्रतिबंधित नगरीय निकायों एवं मैदानी अधिकारियों को प्रमुख सड़कों, हाट-बाजार एवं मड़ई-मेलों में अनाउंसमेंट की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि सामाजिक संस्थाओं एवं एनजीओ का सहयोग लेकर मड़ई-मेले एवं हाट-बाजारों में मॉस्क वितरण को प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि शादी एवं अन्य सामूहिक कार्यक्रमों के लिए संबंधित एसडीएम से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। इसी प्रकार सामूहिक कार्यक्रमों में 100 से अधिक व्यक्तियों की संख्या प्रतिबंधित रहेगी। नैनपुर क्षेत्र में दें विशेष ध्यान कलेक्टर ने एसडीएम नैनपुर को नैनपुर क्षेत्र में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर विशेष नजर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी एसडीएम को अपने क्षेत्र के संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर आवश्यक होने पर जरूरी कार्ययोजना तैयार करने एवं कंटेनमेंट जोन संबंधी आदेश जारी करने की बात कही। उन्होंने दुकानों में 5 लोगों की सोशल डिस्टेसिंग के साथ व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। शीत ऋतु में बढ़ सकता है कोरोना संक्रमण सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार शीत ऋतु में वैश्विक महामारी कोविड-19 कोरोना के संक्रमण के बढऩे की सम्भावना है। सर्दी के मौसम में ठंड से पर्याप्त बचाव ना होने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी आने के कारण श्वसन संक्रमण फेलने की सम्भावना है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जन समुदाय को आवश्यक जानकारी देते हुए सावधान रहने की सलाह दी गई है। हिन्दूस्तान समाचार/नीरज अग्रवाल-hindusthansamachar.in