बुंदेली लोक संगीत संजीवनी पुस्तक का हुआ विमोचन
बुंदेली लोक संगीत संजीवनी पुस्तक का हुआ विमोचन
मध्य-प्रदेश

बुंदेली लोक संगीत संजीवनी पुस्तक का हुआ विमोचन

news

छतरपुर, 29 अक्टूबर (हि.स.)। जिले के लवकुशनगर स्थित ज्ञान भारती स्कूल में गुरुवार को दुन्देली लोक संगीत संजीवनी नामक पुस्तक का विमोचन किया गया। पुस्तक के लेखक रिटायर्ड शिक्षक रामेश्वरदयाल चौरसिया हैं जिनके द्वारा बुंदेली लोक संगीत की रचनाओं को एक पुस्तक में संजोने का कार्य किया गया है। इस पुस्तक का उद्देश्य युवा पीढ़ी से विलुप्त होती बुंदेली संस्कृति और विभिन्न अवसरों में गाए जाने वाले बुन्देली गीतों को सिखाने है। किताब को पूरा करने में लगभग 6 वर्ष का समय लगा है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. सुरेश आचार्य पूर्व हिंदी विभागाध्यक्ष सागर विश्वविद्यायल, विशिष्ट अतिथि उमाकांत मिश्रा सागर, डॉ मनीष चंद्र झा सागर, मुन्ना शुक्ला संस्कृतिविद अध्यक्ष ललितकला मंडल सागर, संतोष कुमार पटैरिया आकाशवाणी धारावाहिक लेखक, जगप्रसाद तिवारी राज्यपाल पुरुस्कार प्राप्त एवं संगीतविद, सागर से आए शिवरतन यादाव दूरदर्शन, आकाशवाणी ए ग्रेड कलाकार एवं उर्मिला पाण्डेय दूरदर्शन, आकाशवाणी ए ग्रेड कलाकार, मानिक चौरसिया, शिवानी चौरसिया सहित कई बुंदेली कलाकार और गणमान्य नागरिक मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार / पवन अवस्थी-hindusthansamachar.in