बसों की हड़ताल समाप्त होने के बाद लौटी बस स्टेण्डों पर पुरानी रौनक
बसों की हड़ताल समाप्त होने के बाद लौटी बस स्टेण्डों पर पुरानी रौनक
मध्य-प्रदेश

बसों की हड़ताल समाप्त होने के बाद लौटी बस स्टेण्डों पर पुरानी रौनक

news

रतलाम, 07 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश में बसों की हडताल समाप्त होने के बाद बस स्टेण्डों पर पुरानी रौनक लौट आई है, लेकिन बसें जिस ताकत से चलना चाहिए वह फिलहाल नहीं चल पाई है। क्योंकि महीनों से बंद बसों के संचालन की व्यवस्था जहां बस मालिकों को सुधारना है वहीं बस कंडेक्टरों, क्लीनर तथा अन्य कर्मचारियों की भी अपनी समस्या है, जिसे भी बस मालिकों को निपटना है। अभी तो शासन के आश्वासन पर बसे संचालित हो रही है और टेक्स का मामला भी अभी निपटा है। शेष मामले अभी भी बाकी है। रतलाम से सोमवार को इंदौर के लिए पहली बस पंकज उदीवाल ने जानकीनाथ ट्रेवल्स रवाना की। सैलाना बस स्टेण्ड से अम्बर बस, बाजना बस स्टेण्ड से जैन,अग्रवाल,टांक, भारत, गुर्जर बसों का संचालन प्रारंभ हुआ। बस स्टेण्ड पर होटल, ठेलागाड़ी व्यवसायियों में बसें चालू होने के कारण काफी खुशी का माहौल देखा गया। कोरोना महामारी के कारण फिलहाल बसों में यात्री कम सवार हो रहे है, लेकिन धीरे-धीरे उम्मीद है कि बसों का संचालन पूर्ववत प्रारंभ हो जाएगा। अध्यक्ष सुबेन्द्रसिंह गुर्जर ने बताया कि शनिवार रात को जिला बस एसोसिएशन की बैठक सैलाना बस स्टेण्ड स्थित एक होटल में आयोजित की गई थी। बैठक में सोमवार से बसों के संचालन का निर्णय लिया गया था, साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि यात्रियों से कम किराया नहीं लेंगे, रियायत पूर्णत: बंद करने, विकलांगों को नि:शुल्क यात्रा कराने एवं विद्यार्थियों को किराये में 40 प्रतिशत छूट देने का निर्णय लिया, साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि बिना मास्क के यात्रियों को बस में नहीं बिठाया जाए। अवैध वाहनों को रूकवाने एवं क्रासिंग देने पर किसी भी प्रकार का लेन-देन नहीं करने का निर्णय भी सर्वानुमति से लिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in