बच्चों के हाथ में तख्तियां देकर पोषण का संदेश दिया गया
बच्चों के हाथ में तख्तियां देकर पोषण का संदेश दिया गया
मध्य-प्रदेश

बच्चों के हाथ में तख्तियां देकर पोषण का संदेश दिया गया

news

रतलाम, 16 सितम्बर (हि.स.)। महिला एवं बाल विकास विभाग अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से प्रतिवर्ष पोषण माह का आयोजन किया जाता है। पोषणमाह आयोजन अंतर्गत स्थानीय स्तर पर आसानी से उपलब्ध खाद्य साम्रगी हरी सब्जी, फल, दालें आदि के महत्व को बताया जाकर दैनिक जीवन में इनके उपयोग की क्षेत्रवासियों को समझाईश दी जाती है। बुधवार को कार्यक्रम में आंगनवाडी कार्यकर्ताओं द्वारा बच्चों की बर्थडे केप पोषण का संदेश देते हुए तैयार की गई। बच्चों के हाथ में पोषण, स्वास्थ्य एवं कोविड-19 के संदेश वाली तख्तियां देकर पोषण का संदेश दिया गया। अलग-अलग थालियां बच्चों के लिए तैयार की गई थाली के अंदर पोषण माह लिखे हुए केक अलग-अलग तैयार किये गये एवं पोषण गुड्डा हाथ में पोषण की थाली लिये पोषण संदेश देते हुए तैयार किया। बच्चों की माताओं ने पोषण मेंहदी लगाई एवं ग्रीन मास्क पोषण संबंधी संदेश देते हुए तैयार किये गये। कोविड-19 से बचाव के लिये बच्चों की इम्युनिटी बढाने हेतु तुलसी औषधी के पौधे एवं टीफीन उपहार में दिये गये। पोषण सजावट एवं बच्चों की वृद्धि चार्ट की रंगोली तैयार की गई। हाथ पर पोषण त्यौहार की सील लगाकर सभी माताओं का स्वागत किया एवं माताओं ने हाथ पर पोषण संदेश देते हुए पोषण मेहंदी रचाई। पोषण की बात महिला एवं पुरुष दोनों के समन्वय एवं समझ से परिवार में लागू कि जा सकती है। इसी थीम को क्षेत्रीय रहवासी चेतन शर्मा द्वारा पौष्टिक व्यंजन की थाली पत्नी के साथ लाकर सांझा की गई। पर्यवेक्षक एवं आंगनवाडी कार्यकर्ता द्वारा इतने नवाचार करते हुए पोषण कार्यक्रम को रोचक बनाया । इसकी जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती विनीता लोढा द्वारा सराहाना करते हुए प्रशंसा की एवं सेम बच्चों की माताओं को एनआरसी में बच्चों को भर्ती करने हेतु समझाईश दी। कार्यकर्ताओं द्वारा पोषण त्यौहार के स्टीकर, बलून एवं पौष्टिक थालियों से सुंदर सजावट की गई। कार्यक्रम में आंगनवाडी कार्यकर्ता श्रीमती अनीता झालीवाल, कोमल मालवी, अर्चना यादव, ललिता डामोर, नीलू अग्रवाल, संगीता जोशी, सरोज पंवार, क्षेत्रीय महिलाएं, बच्चें एवं आंगनवाडी सहायिकाएं उपस्थित रही। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in