प्रेमिका ने प्रेमी संग मिलकर कर दी पति  की हत्‍या
प्रेमिका ने प्रेमी संग मिलकर कर दी पति की हत्‍या
मध्य-प्रदेश

प्रेमिका ने प्रेमी संग मिलकर कर दी पति की हत्‍या

news

प्रेमी को उकसाया , नहीं मारा तो तुम्हारी नाम से जहर खाकर दे दूंगी जान नागदा, 15 सितम्बर (हि.स.)। उज्जैन जिले के नागदा से करीब 8 किमी दूर गांव अंतरालिया में मंगलवार को पुलिस ने एक अंधे कत्ल का पर्दाफाश किया, जहां एक पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर अपनी ही पति की हत्या कर दी। प्रभारी जिला पुलिस अधीक्षक सुश्री सविता सोहने ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में पूरे घटनाक्रम का खुलासा किया। पुलिस के अनुसार बात यह निकलकर सामने आई कि प्यार के नशे में दीवानी एक महिला ने अपने प्रेमी के संग मिलकर पति पर हमला कर उसे घायल कर बाहर पटक दिया। तीन दिन बाद उसकी मौत हो गई। मारपीट के पहले अपने की घर में प्रेमी के संग शारीरिक संबध बनाए। बाद में महिला ने पति का मुंह दबाया और प्रेमी ने मृतक के सिर पर डंडों से वार किया। पुलिस ने दोनों प्रेमी एवं प्रेमिका के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक कमलसिंह बंजारा उम्र अमरसिंह उम्र 45 वर्ष निवासी गांव अतंरालिया थाना नागदा की हत्या के आरोप में राधेश्याम पुत्र बिहारीलाल बंजारा उम्र 38 वर्ष निवासी ग्राम रठड़ा जलोदिया एवं प्रेमबाइ्र पति कमलसिंह बंजारा उम्र 38 वर्ष को हिरासत में लिया है। दोनों ने पुलिस से पूछताछ में हत्या करना कबूल किया है। यह है घटनाक्रम- जिला पुलिस अधीक्षक सुश्री सोहने के मुताबिक 7 सितंबर सुबह 5 बजे मृतका कमलसिंह बंजारा बेहोशी हालत में गांव में पड़ा मिला था। तब तक पता नहीं थाकि इसकी हत्या हुई है। परिवार के लोग उसे 108 के माध्यम से उपचार के लिए शासकीय अस्पताल नागदा लाए। बाद में उसे ग्रेसिम जनसेवा में प्राथमिक उपचार के बाद उज्जैन रैफर कर दिया गया। अपोलो अस्पताल उज्जैन में उपचार के दौरान 8 सितंबर को सुबह 10.30 बजे मौत हो गई। बेहोशी की हालत के कारण मृतक के बयान पुलिस नहीं ले पाई थी। पुलिस ने इस घटनाक्रम पर संदेह जताते हुए तहकीकात की तो मामला हत्या का सामने आया। पुलिस इस बात का पता लगाने के लिए सफल हुई कि मृतक की पत्नी का चरित्र ठीक नहीं है। इस कड़ी के बाद पुलिस मंजिल तक पहुंच गई। यह बात सामने आई कि मृतक की पत्नी प्रेमबाई और राधेश्याम बंजारा के बीच अवैध सबंध है। इस प्रकार की मारपीट पुलिस के मुताबिक गत 6 सितंबर को आरोपित राधेश्याम मृतक कमलसिंह के घर करीबन शाम 4 बजे आया था। बाद में शाम को दोनों मटन लेने के लिए कस्बा उन्हेल गए। शाम 6 बजे राधेश्याम अपने गांव अंतरालिया चला गया। महिला ने पूछताछ में बताया कि उसी दिन रात में करीब 9 बजे फोन पर बातचीत हुई और उसे अपने पास बुलाया। तब तक घर में परिवार के लोग सो चुके थे। इस दौरान राधेश्याम ने घर में ही शराब पी और शारीरिक सबंध भी बनाए। इस दरमियान राधेश्याम जाने लगा तो महिला ने बोला मैं अपने पति की मारपीट से तंग आ गई हूं। वह शराब के नशे में रोज मारपीट करता है। इसे यदि तुम नहीं मारोंगे तो मै तुम्हारे नाम से जहर खाकर मर जाउंगी। इस दौरान कमलसिंह नींद खुलते ही वह चिल्ला चोट करने लगा। तब प्रेमबाई ने कमलसिंह का मुंह दबा दिया और राधेश्याम ने लट्ट डंडों से हमला कर दिया।बाद में रात उसे प्रेमीबाइ्र की देवरानी कृष्णाबाई के घर के सामने पटक दिया। वह बेहोश हो चुका था। दोनों आरोपितों के खिलाफ भादवि की धारा 302. 201 एवं 34 में प्रकरण दर्ज किया है। हिन्दुस्थान समाचार/कैलाश सनोलिया/राजू-hindusthansamachar.in