पीएम बोर्ड की लापरवाही, सप्लीमेंट्री में आई छात्रा के पुनर्गणना में अंग्रेजी विषय में बढ़े 60 अंक
पीएम बोर्ड की लापरवाही, सप्लीमेंट्री में आई छात्रा के पुनर्गणना में अंग्रेजी विषय में बढ़े 60 अंक
मध्य-प्रदेश

पीएम बोर्ड की लापरवाही, सप्लीमेंट्री में आई छात्रा के पुनर्गणना में अंग्रेजी विषय में बढ़े 60 अंक

news

पुनर्गणना के बाद प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुई छात्रा बैतूल, 16 सितम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड द्वारा संचालित कक्षा 10वीं एवं 12वीं की वार्षिक परीक्षाओं के मूल्यांकन में किस हद तक लापरवाही बरती गई, इसका ताजा मामला शासकीय कन्या उमावि घोड़ाडोंगरी की कक्षा 12वीं की छात्रा के पुनर्गणना परिणाम में सामने आया है। पुनर्गणना में छात्रा के अंग्रेजी विषय में 60 अंक की बढ़ोतरी हुई है। उसे वार्षिक परीक्षा परिणाम में मात्र आठ अंक मिले थे, जो कि पुनर्गणना परिणाम में 68 हो गए। जिससे सप्लीमेंट्री की पात्रता वाली छात्रा अब प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण घोषित की गई है। वार्षिक परीक्षा के मूल्यांकन में की गई गंभीर लापरवाही के लिए जिम्मेदारों के खिलाफ जिले के शिक्षा क्षेत्र से जुड़े प्रतिष्ठित लोगों ने कड़ी कार्रवाई की मांग शासन से की है। अंग्रेजी में मिले थे सिर्फ 8 अंक उल्लेखनीय है कि शासकीय कन्या उमावि घोड़ाडोंगरी में कक्षा 12वीं जीव विज्ञान विषय में अध्ययनरत छात्रा कुमारी वर्षा पुत्री कैलाश परते वर्ष 2019-20 की वार्षिक परीक्षा में शामिल हुई थी। मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा घोषित परीक्षा परिणाम में वर्षा को हिन्दी में 78, भौतिक में 70, रसायन में 66 तथा जीव विज्ञान विषय में 67 अंक प्राप्त हुए। उक्त सभी विषयों में प्रथम श्रेणी के अंक प्राप्त होने के बावजूद अंग्रेजी विषय में उसे सिर्फ 8 अंक मिलने से उसे पूरक की पात्रता आई। अंग्रेजी विषय में आए निराशाजनक अंकों से छात्रा हताश एवं दुखी हो गई थी। पुनर्गणना में 8 से 68 हो गए अंक वर्षा को उम्मीद थी कि उसे अंग्रेजी विषय में भी प्रथम श्रेणी के अंक प्राप्त होंगे, लेकिन आठ अंक मिलने से सप्लीमेंट्री में आ गई। चूंकि छात्रा का अन्य विषयों की तरह अंगे्रजी का प्रश्न पत्र भी अच्छा गया था इसलिए उसने अंग्रेजी विषय में पुनर्गणना के लिए के साथ ही अंग्रेजी विषय की उत्तर पुस्तिका प्राप्त करने के लिए मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल को आवेदन दिया गया। उसे उत्तर पुस्तिका तो नहीं मिली, लेकिन हाल ही में जारी पुनर्गणना के परिणाम में अंग्रेजी विषय में 60 अंकों की बढ़ोतरी हुई। पुनर्गणना के बाद अंग्रेजी विषय में अंक 8 से बढक़र 68 होने से कुमारी वर्षा कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण घोषित की गई। हिन्दुस्थान समाचार / विवेक / मुकेश-hindusthansamachar.in