त्यौहार पर लॉकडाउन के फैसले का काले झंडे लगाकर विरोध करेगी कांग्रेस
त्यौहार पर लॉकडाउन के फैसले का काले झंडे लगाकर विरोध करेगी कांग्रेस
मध्य-प्रदेश

त्यौहार पर लॉकडाउन के फैसले का काले झंडे लगाकर विरोध करेगी कांग्रेस

news

ग्वालियर, 23 जुलाई (हि.स.)। भोपाल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए सरकार ने राजधानी में 24 जुलाई से टोटल लॉकडाउन का निर्णय लिया है। सरकार के इस फैसले के विरोध में कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद खुलकर सामने आए हैं और त्यौहार के समय लॉकडाउन का विरोध करते हुए सरकार को आंदोलन की चेतावनी दी है। वहीं अब विधायक आरिफ मसूद ने सरकार द्वारा फैसला वापस लेने की मांग की है। साथ ही इस फैसले के विरोध में काले झंडे लगाकर विरोध प्रदर्शन करेगी। विधायक आरिफ मसूद ने गुरुवार को पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार द्वारा त्यौहारों पर लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। इस संबंध में मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से दूरभाष पर मेरी चर्चा हुई है, बकरा ईद पर होने वाली कुर्बानी में किसी भी प्रकार की बाधा ना आए। इस पर यदि आज शाम 04:00 बजे तक कोई निर्णय नहीं लिया जाता, तो कल दुकानदार, व्यापारी और आमजन प्रमुख चौराहों और घरों पर काले झंडे लगा कर सरकार के त्यौहारों पर लॉकडाउन के फैसले का विरोध करेगी। विधायक आरिफ मसूद ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार बिना सोचे समझे फैसले ले रही है। जो जनविरोधी है, आम जनता तीन महीनों से आर्थिक तंगी से जुझ रही है और सरकार लगातार लॉकडाउन लगा रही है। उन्होंने कहा कि धार्मिक त्यौहारों पर लोगों की आस्था जुड़ी है और सरकार लगातार सभी धर्म के लोगों की आस्था के साथ खिलवाड़ कर रही है। त्यौहारों पर लगातार लॉकडाउन लगा रही है इससे छोटे व्यापारियों को काफी नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व रमजान और ईद तक लॉकडाउन लगा रहा, इस कारण व्यपारियों को भारी नुकसान हुआ था। अब फिर बकरा ईद और रक्षाबंधन के मौके पर लॉकडाउन लगाया जा रहा है, जिससे फिर आम जनता और व्यापारी भाईयों को इस की वजह से नुकसान होगा। विधायक आरिफ मसूद ने सरकार पर कोरोना की लड़ाई में पूरी तरह फेल होने का आरोप लगाते हुए कहा कि स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ठप पड़ी हैं, लेकिन सरकार और भाजपा नेताओं को उप चुनाव की चिंता है। उन्होंने कहा कि इनके नेता भीड़ इकट्ठा कर के कार्यक्रम कर रहे हैं, सरकार को त्यौहारों पर ही लॉकडाउन दिखाई दे रहा है। भाजपा नेताओं और मंत्रियों द्वारा भीड़ इकट्ठा करने पर क्यों दिखाई नही दे रहा है ? विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि सरकार को मजदूरों और गरीबों की चिंता नही है, क्योंकि लॉकडाउन की वजह से गरीबों को फिर परेशानी का सामना करना पड़ेगा। त्यौहारों पर लॉकडाउन लगाने का फैसला सरकार को वापस लेना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in