ड्रग तस्करों का संगठित अवैध कारोबार रोकने के लिए गठित होगा टास्क फोर्स
ड्रग तस्करों का संगठित अवैध कारोबार रोकने के लिए गठित होगा टास्क फोर्स
मध्य-प्रदेश

ड्रग तस्करों का संगठित अवैध कारोबार रोकने के लिए गठित होगा टास्क फोर्स

news

सिवनी, 24 अगस्त (हि.स.)। प्रदेश में नशे के अवैध संगठित कारोबार को रोकने एवं इस व्यापार में लगे अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए अभियोजन अधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों का एक टास्क फोर्स गठित किया जाएगा, यह बात मध्यप्रदेश अभियोजन के संचालक पुरुषोत्तम शर्मा द्वारा सोमवार को ऑनलाइन वेबीनार में कही। एनडीपीएस एक्ट के द्वारा ऑनलाइन वेबीनार आयोजित किया गया। इस दौरान प्रशिक्षण के मुख्य अतिथि पुरुषोत्तम शर्मा ने कहा कि यह अपराध अत्यंत गंभीर अपराध हैं क्योंकि यह राष्ट्र की आने वाली पीढ़ी को समाप्त करने की क्षमता रखता है। उन्होंने घटनाओं का उदाहरण देते हुए इस अपराध से जुड़े धन व साजिश को समझाते हुए अपराध की गंभीरता पर प्रकाश डाला। बताया गया कि मुख्य अतिथि ने राज्य समन्वयक अकरम शेख को प्रदेश में एक टास्क फोर्स गठित करने के लिए निर्देशित किया है, जो कि जिले में अनुसंधान में पुलिस को उचित विधिक राय प्रदान करने के प्रकरण की उचित स्क्रूटनी का काम करेगी। डीजी शर्मा ने कहा की वर्तमान में मध्य प्रदेश के हर जिले में विशेष न्यायालय का गठन किया जा चुका है, जिनमें लगभग 3572 प्रकरण लंबित है। वर्तमान में प्रदेश के प्रमुख जिलों के विशेष कोर्ट में अभियोजन का संचालन रेगुलर कैडर द्वारा किया जा रहा है और बाकी जगह पर जीपी और एजीपी अभियोजन का संचालन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि शासन को एक प्रस्ताव भेजकर व्यापारिक एवं मध्य मात्रा वाले अपराधों को चिन्हित अपराध की श्रेणी में रखे जाने की मांग की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/रवि-hindusthansamachar.in