डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा करके लाई गई नाबालिग की मौत, पुलिस ने कराया पोस्टमार्टम
डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा करके लाई गई नाबालिग की मौत, पुलिस ने कराया पोस्टमार्टम
मध्य-प्रदेश

डेढ़ साल पहले झांसी से अगवा करके लाई गई नाबालिग की मौत, पुलिस ने कराया पोस्टमार्टम

news

भोपाल, 05 नवम्बर (हि.स.)। डेढ़ साल पहले झांसी से बहला-फुसलाकर भोपाल लाई गई एक नाबालिग की गुरुवार को चूना भट्टी के एक अस्पताल में मौत हो गई। हिंदू संगठनों एवं परिजनों की आपत्ति के बाद पुलिस ने मृतका का पोस्टमार्टम कराया है और प्रकरण दर्ज किया है। हिंदू संगठन इसे लव जिहाद का मामला बता रहे हैं। झांसी की एक नाबालिग लड़की को भोपाल का एक लड़का करीब डेढ़ साल पहले बहला-फुसलाकर ले आया था। यहां उसका नाम भी भारती से बदलकर तरन्नुम कर दिया गया। आरोपी के खिलाफ यूपी के झांसी में अपहरण समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज है। पुलिस कई बार आरोपी की तलाश में भोपाल भी आई थी, लेकिन वह नहीं मिला। दो दिन पहले नाबालिग को तरन्नुम नाम से चूनाभट्टी स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां उसकी गुरुवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई। पुलिस ने मामले में शव का पोस्टमार्टम कराया है। साथ ही, यूपी पुलिस को जानकारी दे दी है। इसे लेकर हिंदू संगठन ने कोलार थाने में विरोध भी दर्ज कराया है। चूनाभट्टी पुलिस के अनुसार कोलार के गेहूंखेड़ा में रहने वाला ताहिर खान ने दो दिन पहले तरन्नुम नाम से अपनी पत्नी को चूनाभट्टी स्थित प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। अस्पताल की सूचना पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। ताहिर के खिलाफ झांसी के नवाबाद थाने में नाबालिग के अपहरण का मामला दर्ज है। उसकी तलाश में झांसी की पुलिस कई बार गेहूंखेड़ा भी आई थी, लेकिन ताहिर के परिजन ने हर बार पुलिस को गुमराह कर चलता कर दिया। पुलिस के अनुसार मृतका का नाम मिनी भारती है। लेकिन ताहिर ने अस्पताल में भर्ती करवाते समय उसका नाम तरन्नुम लिखवाया था। यही नहीं, लड़की की उम्र भी 19 साल लिखवाई थी। लड़की का धर्म परिवर्तन किया गया या नहीं किया गया, अभी इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच झांसी पुलिस करेगी। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे-hindusthansamachar.in