झाडिय़ा डाल रास्ता किया बंद,क्षतिग्रस्त पुल की सुरक्षा में भृत्य की तैनाती
झाडिय़ा डाल रास्ता किया बंद,क्षतिग्रस्त पुल की सुरक्षा में भृत्य की तैनाती
मध्य-प्रदेश

झाडिय़ा डाल रास्ता किया बंद,क्षतिग्रस्त पुल की सुरक्षा में भृत्य की तैनाती

news

अनूपपुर, 17 जुलाई (हि.स.)। जिला मुख्यालय अनूपपुर के सामतपुर-हर्री गांव के बीच 60 मीटर लम्बा पुल में दूसरे हिस्से के क्षतिग्रस्त बाद अब जलसंसाधन विभाग ने भृत्य की ड्यूटी लगाई है। इसके अलावा कंटीली झाडिय़ों को डालकर मार्ग अवरूद्ध करने का वैकिल्पक व्यवस्था बनाया है। भृत्यु की तैनाती के बाद पुल से बाइक और पैदल यात्रियों की आवाजाही पर अंकुश लगा है। लेकिन ग्रामीण इस मार्ग के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं होने के कारण भृत्य पर सहानुभूति का दबाव बनाकर गुजर रहे हैं। जलसंससाधन विभाग की ओर से तैनात भृत्य का कहना है कि जबतक विभाग द्वारा स्थायी रूप से मार्ग को अवरूद्ध नहीं किया जाता, जबतक ग्रामीणों की आवाजाही रोकना मुश्किल होगा। ग्रामीणों को लगातार मनाही करने के बाद भी कुछ ग्रामीण पैदल पुल से गुजर जाते हैं। जबकि पुल अब खतरनाक होकर 4 फीट से अधिक गहराई में वी सेप लेकर नदी के तल में बैठ गई है। नदी का बहाव लगातार बना हुआ है, जिसमें अभी पुल क्षतिग्रस्त हिस्सा और तलहटी में धंसकता जाएगा। उल्लेखनीय है कि पुल का लगभग 40-45 फीट लम्बा हिस्सा 15 जुलाई को नदी के तेज धार की कटाव में वी सेप लेते हुए धसक गया था। पूर्व हुए पुल के क्षतिग्रस्त हिस्से के साथ वर्तमान में क्षतिग्रस्त हुए हिस्से के दौरान प्रशासन और विभागीय अधिकारियों की लापरवाही को उजागर किया था। साथ ही यह भी बताया था कि दो स्थानों पर लगभग 45-45 फीट लम्बी स्लैप के क्षतिग्रस्त होकर वी सेप बाद भी बाइक सवार और पैदल यात्री गुजर रहे हैं। जहां नियमत: मार्ग को प्रतिबंधित कर बंद कर देना चाहिए था। बावजूद विभागीय अधिकारी और प्रशासन बेसुध हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला-hindusthansamachar.in